Patrika Hindi News

भोपाल को मिला ओडीएफ सर्टिफिकेट, नगरीय क्षेत्रों में सर्वे ने दिलाई उपलब्धि

Updated: IST bhopal nagar nigam
एमसीआई की टीम ने आखिरकार भोपाल नगर निगम को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) घोषित कर ही दिया। टीम ने सर्वे करने के बाद रिपोर्ट तैयार की और भोपाल नगर निगम को ओडीएफ का सर्टिफिकेट दे दिया है।

भोपाल। एमसीआई की टीम ने आखिरकार भोपाल नगर निगम को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) घोषित कर ही दिया। टीम ने सर्वे करने के बाद रिपोर्ट तैयार की और भोपाल नगर निगम को ओडीएफ का सर्टिफिकेट दे दिया है।

आपको बता दें कि एमसीआई टीम ने 11 और 12 जनवरी को भेापाल के 20 क्षेत्रों का सर्वे किया था। इन क्षेत्रों में स्लम एरिया, रिहायशी इलाकों के साथ ही कमर्शियल क्षेत्र और स्कूल के साथ ही कुछ खास लोकेशन शामिल थीं। निगम कमिश्नर छवि भारद्वाज ने इसे शहर के लिए एक बड़ी उपलब्धि बताया है।

अफसरों की मेहनत का फल
ओडीएफ का तमगा पाने के लिए नगर निगम कमिश्नर समेत कई अफसर व कर्मचारी लंबे समय से प्रयासरत थे। सुबह 5:00 बजे से देर रात तक अवसर फील्ड पर ही रहते थे। शहर की विभिन्न बस्तियों में करीब 21000 शौचालय बनाए गए और 18 सौ अस्थाई शौचालयों को अलग-अलग इलाकों में रखा गया है।

ये क्षेत्र बने ओडीएफ
* स्लम क्षेत्रों में इरानी डेरी, आजाद नगर, विश्वकर्मा नगर, मादी नगर जैसे इलाके ओडीएफ घोषित किए गए।
* रिहायशी इलाकों में खुशीपुरा, पुराना अशोका गार्डन, कमला नगर, सरदार मोहल्ला जैसे क्षेत्रों को ओडीएफ घोषित किया गया है।
* अटल बिहारी बाजपयी सब्जी मार्केट, आयोध्यानगर के पास स्थित राजीव गांधी नगर, चौक बाजार, हमीदिया रोड, मानसरोवर कॉम्प्लेक्स जैसे व्यावसायिक क्षेत्र ओडीएफ बन गए हैं।

* कैंपियन हायर सेकंडरी स्कूल, सुमन सौरभ, शासकीय स्कूल भानपुर, शासकीय स्कूल गोविंदपुरा जैसे विद्यालयी क्षेत्रों को ओडीएफ घोषित किया गया है।
* शहर की स्पेशल लोकेशन में शामिल अपर लेक को ओडीएफ घोषित किया गया है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???