Patrika Hindi News

MP: इस बार नेशनल इंस्टिट्यूट में हुई रैगिंग, 5 सीनियर स्टूडेंट्स सस्पेंड

Updated: IST bhopal
पीडि़त छात्र की शिकायत के बाद रैगिंग में शामिल पांच सीनियर छात्रों को अकादमिक गतिविधियों के साथ हॉस्टल से सस्पेंड कर दिया है।

भोपाल. तमाम कोशिशों के बावजूद मध्य प्रदेश में स्थित राष्ट्रीय संस्थानों में रैगिंग के मामले नहीं रुक रहे। पिछले दिनों मैनिट, IIFM, IIFT में रैगिंग के मामले सामने आये थे, अब स्कूल ऑफ प्लानिंग एंड आर्किटेक्चर में रैगिंग हुई है। पीडि़त छात्र की शिकायत मिलते ही प्रबंधन ने करीब दो छात्राओं समेत एक दर्जन विद्यार्थियों के बयान दर्ज किए हैं। बयान के बाद रैगिंग में शामिल पांच सीनियर छात्रों को अकादमिक गतिविधियों के साथ हॉस्टल से सस्पेंड कर दिया है। मामले की स्पेशल कमेटी बनाकर जांच कराई जा रही है। यह कमेटी शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। रिपोर्ट के आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी। संस्थान प्रबंधन ने थाना खजूरी में भी रैगिंग की रिपोर्ट दर्ज करा दी है।

18 अप्रैल की घटना
रैगिंग की घटना 18 अप्रैल की है। बी. प्लान फस्र्ट ईयर के स्टूडेंट के साथ थर्ड ईयर के छात्रों ने बदसलूकी और गाली-गलौज की। पहली बार रैगिंग टीचिंग ब्लॉक में हुई। इसके बाद जूनियर छात्र को बॉस्केटबॉल कोर्ट में बुलाया गया और फिर उसके साथ अभद्रता हुई। इस घटना से पीडि़त छात्र ने एंटी रैगिंग हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज करा दी। शिकायत के बाद प्रबंधन ने भी पड़ताल शुरू कर दी है।

छेड़छाड़ से रैगिंग के तार
रैगिंग की कडिय़ां छेड़छाड़ से जुड़ती दिख रही हैं। प्रबंधन द्वारा की जा रही पड़ताल में दो छात्राओं के बयान भी लिए गए हैं। परिसर में छात्रों के बीच चर्चा है कि पीडि़त छात्र ने सीनियर गल्र्स स्टूडेंट के साथ छेड़छाड़ की थी। इसके साथ ही बताया गया है कि उसने सहपाठी छात्रा को परेशान किया था। उसकी हरकतों की जानकारी छात्रा ने अपने सीनियर को दी थी। उसी के बाद यह रैगिंग की घटना सामने आई।

इनका कहना है..
रैगिंग को लेकर पांच छात्रों को सस्पेंड कर दिया गया है। एंटी रैगिंग कमेटी इस पूरे मामले को देख रही है। एक स्पेशल कमेटी भी अलग से जांच कर रही है जो शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी। पुलिस थाने में भी रिपोर्ट दर्ज करा दी है।
- राजेंद्र मोजा, रजिस्ट्रार एसपीए

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???