Patrika Hindi News

> > > > Shaurya smarak inaugurated in Bhopal

Photo Icon यहां जमीन के नीचे बसा है पूरा सियाचिन, 14 को होगा दुनिया के सामने

Updated: IST Shaurya smarak
शौर्य स्मारक स्थित म्यूजियम में सैन्य जीवन से जुड़ी खूबसूरत कलाकृतियां सजायी गईं हैं।

भोपाल।सैन्य जीवन की शान और उनके संघर्ष को सलाम करता शौर्य स्मारक बनकर तैयार हो रहा है। जल्दी ही इस खूबसूरत उद्यान का शुभारंभ किया जाना है। इसके पहले यहां की आर्टं गैलरी को सजाने का काम शुरू हो गया है। शौर्य स्मारक स्थित म्यूजियम में सैन्य जीवन से जुड़ी खूबसूरत कलाकृतियां सजायी गईं हैं। भूमिगत वॉर आर्टं गैलरी में भारतीय सेना द्वारा युद्ध में प्रयुक्त होने वाले सैन्य सामान, हथियार, एयरक्राफ्ट आदि का प्रदर्शंन किया जा जाएगा।

Shaurya smarak

देश की पहली आर्ट गैलरी
7200 वर्गमीटर में फैली यह देश की पहली वॉर ऑर्ट गैलरी है जिसे किसी सिवीलियन तैयार किया है। आटज़् गैलरी बनाने में 5 करोड़ रुपए की लागत आयी है। यहां तीनों सेनाओं के बारे में संक्षिप्त जानकारियां दी गईं हैं।

देखने मिलेंगे एयरक्राफ्ट
वॉर आर्ट गैलरी में वायु सेना विंग का पहला एयरक्राफ्ट वापिति का मॉडल रखा गया है। 1933 में पहली बार सेना में इस्तेमाल हुए इस एयरक्राफ्ट का प्रयोग द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान किया गया था। मॉडल के साथ ही उसकी जानकारी भी दी गई है।

Shaurya smarak

पोट्रेट में दिखेगा साहस
आर्ट गैलरी में तीनों सेनाओं के प्रमुखों सहित परमवीर चक्र और महावीर चक्र से सम्मानित जवानों के 40 पोट्रेट प्रदर्शित किए जाएंगे। ये वही पोट्रेट हैं जिन्हें जनजातीय संग्राहालय में आयोजित वर्कशॉप में कलाकारों द्वारा बनाया गया था। सेना के बारे में ज्यादा रूचि रखने वालों के लिए शोविनियर शॉप भी ओपन की गई है। जिसमें सेना की जानकारी देने वाली किताबें, युद्ध की जानकारी, सीडी और खिलौनेनुमा हथियार खरीदे जा सकेंगे।

Shaurya smarak
देखे सियाचिन का दृश्य
सियाचिन में सैनिकों के संघर्ष को बयां करती झांकी का प्रदर्शन किया गया है। सियाचिन के डायरोमा को थ्रीडी इफेक्ट के साथ तैयार किया गया है। इस विशेष झांकी में सेना में प्रयुक्त होने वाली वास्तविक हथियारों को प्रदर्शित किया जा रहा है। ये सभी हथियार जबलपुर के आर्मी हेड क्वाटर से मंगवाए गए हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे