Patrika Hindi News

NEPAL के रास्ते सीरिया जाकर ISIS से जुड़ना चाहते थे सिमी आतंकी

Updated: IST bhopal encounter
खुफिया एजेंसियों के मुताबिकयह भी पता चला है कि इन आतंकियों को यूपी से नकली पासपोर्ट और पैसों की मदद मिलने वाली थी। वे यूपी होते हुए नेपाल पहुंचते और वहां से सीरिया के लिए उड़ान भरने वाले थे।

भोपाल। सेंट्रल जेल से भागकर सिमी के आतंकी उत्तरप्रदेश के रास्ते नेपाल और फिर सीरिया जाकर ISIS से जुड़ने की फिराक में थे। हालांकि कुछ ही घंटों में मध्यप्रदेश पुलिस ने इन आतंकियों को मार गिराया था। खुफिया एजेंसी की पड़ताल में यह बात सामने आई है।

भोपाल जेल से सिपाही रमाशंकर यादव की हत्या कर सिमी के आतंकी भाग तो गए थे, कुछ ही घंटे बाद पुलिस ने अचारपुरा में इन्हें घेरकर मार गिराया था।

सूत्रों के मुताबिक पड़ताल में यह बात सामने आई है कि सिमी आतकी सीरिया भागने वाले थे और आईएसआईएस से जुड़ने वाले थे। यह भी पता चला है कि इन आतंकियों को यूपी से नकली पासपोर्ट और पैसों की मदद मिलने वाली थी। वे यूपी होते हुए नेपाल पहुंचते और वहां से सीरिया के लिए उड़ान भरने वाले थे।

एक खबर के मुताबिक यह आतंकी जेल में अन्य कैदियों के सीरिया जाने की बात शेयर करते थे। वे अन्य कैदियों से भी इस बात का जिक्र करते थे। माना जा रहा है कि सिमी आतंकी जैसा काम कर रहे थे वह आईएसआईएस की विचारधारा से मेल खाता है। इसके लिए वे अंग्रेजी, अरबी सीख रहे थे।

UP में बन गया था अबु का बड़ा नेटवर्क
गौरतलब है कि जेल ब्रेक का मास्टरमाइंड अबु फैजल गिरफ्तार होने से पहले पाकिस्तान जाने की फिराक में था। अबु ने उत्तरप्रदेश में अपना अच्छा-खासा नेटवर्क जमा लिया था। जिसके बाद वह बड़ी गतिविधियां चला सकता था

लूट पैसों से किए बम धमाके
उल्लखनीय है कि अगस्त 2010 में भोपाल के मणप्पुरम गोल्ड फाइनेंस कंपनी में SIMI के आतंकियों ने सोना लूटा था। जिसे बेचकर पटना के गांधी मैदान और बोधगया में बम धमाकों को अंजाम दिया। इन आतंकियों ने मास्टरमाइंड अबु फैजल के साथ 12 किलो सोना लूट लिया था। इसी के रुपयों से अबू फैजल ने टाटा नगर में एक घर भी खरीद लिया था। डकैती में अबु के साथ पांच आतंकवादी असलम, जाकिर, मुजीबुर्रहमान,साजिद और एजाज उद्दीन भी थे।

आज भी बचा रखा है सोना
यह भी जानकारी मिली है कि सिमी आतंकियों ने लूट का कुछ सोना बचाकर रखा है। जिसे बेचकर वे सीरिया जाने की फिराक में थे। पुलिस सिर्फ 6 किलो सोना ही ढूंढ पाई, बाकी सोना आज तक लापता है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???