Patrika Hindi News

एपीएस की राशि जमा नहीं की, फोरलेन के लिए 4 करोड़ का टेंडर रद्द

Updated: IST pwd rode
मुख्य अभियंता के निर्देश पर कार्यपालन अभियंता एम प्रसाद ने ठेकेदार का वर्क आर्डर रद्द कर दिया है। अब इस सड़क के लिए नए टेंडर की तैयारी की जा रही है।

बिलासपुर. पीडब्ल्यूडी द्वारा संजय तरण पुष्कर से इंदू चौक तक डेढ़ किलोमीटर लंबी फोरलेन सड़क प्रस्तावित है। इसका काम कोरबा के योगेश कंस्ट्रक्शन को 31 प्रतिशत बिलो पर दिया गया था। काम शुरू करने से पहले ठेकेदार को विभाग में 90 लाख रुपए सिक्युरिटी मनी जमा करना था। लेकिन यह राशि समय पर जमा नहीं की गई। मुख्य अभियंता के निर्देश पर कार्यपालन अभियंता एम प्रसाद ने ठेकेदार का वर्क आर्डर रद्द कर दिया है। अब इस सड़क के लिए नए टेंडर की तैयारी की जा रही है।

पीडब्ल्यूडी बीएंड आर शाखा के बिलासपुर डिवीजन-एक के तहत यह टेंडर एक माह पहले जारी किया था। डिवीजन के कार्यपालन अभियंता एम प्रसाद ने बताया कि जिस ठेकेदार का टेंडर खुलता है, उसे 15 दिन के अंदर एपीएस की राशि विभाग में जमा करके वर्क आर्डर जारी करवाना अनिवार्य होता है। संजय तरण पुष्कर से इंदू चौक रोड के लिए ठेकेराद को 15 दिन में एपीएस की राशि 90 लाख रुपए जमा करनी थी, लेकिन वह समय पर जमा नहीं कर सका। उसे विभाग ने अतिरिक्त समय भी दिया, लेकिन इसके बाद भी एपीएस की रकम जमा नहीं की गई तो टेंडर रद्द करना पड़ा। टेंडर रद्द करने के बाद ईई ने गुरुवार की शाम एसडीओ व सब इंजीनियर को बुलाकर चर्चा की। उन्हें जल्द से जल्द दूसरे टेंडर की तैयारी करने के लिए कहा गया है। शासन को मंजूरी के लिए पत्र भेज दिया गया है।

2.30 लाख का एफडीआर जब्त

टेंडर फार्म भरते समय ठेकेदार से विभाग ने 2.30 लाख रुपए का एफडीआर जमा कराया था। इसे राजसात कर लिया गया है। टेंडर ओपन होने के बाद जिन ठेकेदारों को कार्य नहीं मिल पाता उनका एफडीआर विभाग से तुरंत रिलीज हो जाता है। लेकिन टेंडर पाने वाले का एफडीआर जमा रहता है। इस केस में ठेकेदार का वर्क आर्डर कैंसिल होने पर विभाग ने उसका एफडीआर राजसात कर लिया है।

एपीएस जमा करने में बड़े-बड़े ठेकेदार फेल

एक करोड़ के कार्य के लिए ठेकेदार को 30 लाख रुपए एपीएस जमा करना पड़ रहा है। बड़े-बड़े ठेकेदार एक नंबर में यह रकम जमा नहीं कर पा रहे हैं।

संजय तरण पुष्कर से इंदू चौक तक बन रही फोरलेन का टेंडर रद्द कर दिया गया है। ऐसा ठेकेदार द्वारा समय पर एपीएस की राशि जमा न करने से हुआ है। विभाग ने ठेकेदार का एफडीआर राजसात कर लिया है।

एम प्रसाद, कार्यपालन अभियंता, पीडब्ल्यूडी डिवीजन एक, बिलासपुर

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???