Patrika Hindi News

सत्ता-संगठन का अखाड़ा बना रतनपुर नगर पालिका

Updated: IST collectoret
सीएमओ को हटाने का आंदोलन जारी, अब अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का आवेदन दिया पार्षदों ने

बिलासपुर. नगर पालिका रतनपुर इन दिनों सत्तारूढ़ दल और संगठन के बीच अखाड़ा बना हुआ है। मंत्री को अफसर का वरदहस्त है तो दूसरी तरफ पार्षदों को पार्टी के राज्य प्रमुख का आशीर्वाद है। इस विवाद में नपा अध्यक्ष के खिलाफ सोमवार को कलेक्टर को कांगे्रस-भाजपा पार्षदों ने मिलकर अविश्वास प्रस्ताव के लिए आवेदन दिया है।

नगर पालिका रतनपुर में पिछले 37 दिनों से सीएमओ को हटाने के लिए आंदोलन चल रहा है। सीएमओ को हटाने के लिए कांगे्रस,भाजपा के पार्षदों का संयुक्त प्रतिनिधिमंडल नगरीय निकाय मंत्री अमर अग्रवाल, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह तक को अलग-अलग ज्ञापन सौंप चुके है। लेकिन किसी भी स्तर पर कोई ठोस आश्वासन नहीं मिला। नगरीय निकाय मंत्री ने भी सीएमओ को हटाने से इनकार कर दिया।

अध्यक्ष ने हाथ खडे़ किए: दोनों दलों के पार्षदों ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष से पुन: मुलाकात करके सीएमओ को हटाने के लिए ज्ञापन दिया। इस पर प्रदेश अध्यक्ष ने नगरीय निकाय मंत्री द्वारा ही कार्रवाई करने की बात कहकर हाथ खडे़ कर दिए।

अब अध्यक्ष पर निशाना: नाराज 15 में से 13 पार्षदों ने नपा अध्यक्ष आशा सूर्यवंशी के खिलाफ ही अविश्वास प्रस्ताव लाने सोमवार को कलेक्टर पी. दयानंद को आवेदन दिया गया। इस आवेदन को विचार के लिए रखा गया है। आवेदन में हरनारायण पोर्ते, दामोदर सिंह क्षत्रिय, कन्हैया यादव, कुबरा बेगम अंसारी, राजू श्रीवास, दुवसिया जगत, शुक्रवारा कश्यप, विष्णु प्रसाद इंदुवा,अनिल कुमार यादव, प्रकाश कश्यप, रामकुमार, रुकसाना के हस्ताक्षर हैं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???