Patrika Hindi News

महिला को ट्रैक्टर ने कुचला, 6 घंटे चक्काजाम ग्रामीणों ने लाठी लेकर दौड़ाया, पुलिस कर्मी भागे

Updated: IST Woman crushed by tractor
चकरभाठा थानांतगत ग्राम सरवानी की घटना, आरोपी ट्रैक्टर चालक को पकडऩे और मुआवजे की मांग को लेकर ग्रामीण ने किया चक्काजाम, बवाल शांत करने दूसरे थानों से बल और पुलिस अधिकारी को जाना पड़ा मौके पर

बिलासपुर. चकरभाठा थानांतर्गत ग्राम सरवानी में सोमवार सुबह तिजनहावन (अंतिम संस्कार की प्रक्रिया) से घर लौट रही बाइक सवार महिला को ट्रैक्टर चालक ने रौंद दिया। मृतका का भाई बाल-बाल बच गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने फरार चालक को पकडऩे और मुआवजे मांग करते हुए शव सड़क पररखकर 6 घंटे तक चक्काजाम कर दिया।

उन्हें खदेडऩे बल प्रयोग करन ेपर गांव में बवाल मच गया। ग्रामीणों ने लाठी छीनकर पुलिस कर्मियों को मारने के लिए दौड़ाया। इससे पुलिस को भागना पड़ा। गांव में तनाव खत्म करने सीएसपी कोतवाली और बिल्हा थानेदार को पुलिस बल के साथ पहुंचे। मुआवजा मिलने पर ग्रामीणों ने चक्काजाम खत्म कर दिया।

चकरभाठा पुलिस के अनुसार मस्तूरी थानांतर्गत ग्राम सरगवां निवासी बेदन बाई पाटले पति मिलन सिंह पाटले (45) कुछ दिनों पूर्व चाचा की मृत्यु होने पर बिल्हा थानांतर्गत ग्राम खुडियाडीह स्थित मायके गई थी। रविवार को तिजनहावन के बाद सोमवार सुबह वह छोटे भाई विकास बारमते के साथ बाइक क्रमांक सीजी 10एडी 3458 से वापस ससुराल जा रही थी।

रास्ते में ग्राम सरवानी में सामने से जारहे ईंट से भरे ट्रैक्टर क्रमांक सीजी 10 वाई 0371 को विकास ओवरटेक करने लगा। इसी समय बाइक अनियंत्रित हो गई और ट्रैक्टर से आगे बढऩे के बाद बाइक से बेदन बाई गिरकर ट्रैक्टर की चपेट में आ गई। दुर्घटना में उसकी मौके पर मौत हो गई। विकास बाल-बाल बच गया। दुर्घटना के बाद चालक बलराम ट्रैक्टर छोड़कर भाग गया। आक्रोशित ग्रामीणों ने मुआवजा और आरोपी ट्रैक्टर चालक को गिरफ्तार करने की मांग करते हुए गांव में चक्काजाम कर दिया। सूचना मिलने पर चकरभाठा पुलिस ने समझाइश दी। लेकिन ग्रामीणों ने उन्हें मारने के लिए दौड़ा दिया।

पुलिस बल के साथ पहुंचे सीएसपी और बिल्हा, चकरभाठा के टीआई: गांव में तनावपूर्ण हालात की सूचना मिलने पर सीएसपी कोतवाली शलभ सिन्हा, बिल्हा टीआई एसएन शुक्ला और चकरभाठा टीआई राजेश श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे। यहां पहुंचने के बाद अधिकारियों और थानेदारों ने ग्रामीणों को समझाइश देने का प्रयास किया। ग्रामीणों ने तनावपूर्ण स्थिति की जानकारी से थानेदार को अवगत कराया। बिल्हा तहसीलदार द्वारा मृतका के परिजनों को 25 हजार रुपए मुआवजा राशि देने और पुलिस द्वारा आरोपी चालक को गिरफ्तार करने का आश्वासन देने पर ग्रामीणों ने चक्काजाम खत्म कर दिया।


6 घंटे बंद रहा सरवानी-पिरैया मार्ग: ग्रामीणों के चक्काजाम करने से सरवानी और पिरैया मार्ग 6 घंटे तक बंद रहा। गांव के रास्ते मस्तूरी से बिल्हा और हिर्री आने-जाने वालों को कई घंटे तक सड़क पर खड़े रहना पड़ा। दोपहर साढ़े 3 बजे चक्काजाम हुआ।

ग्रामीणों ने लाठी छीनकर पीटा, पुलिस कर्मी भाग निकले: चकरभाठा थाने के एसआई आरएस मिश्रा, दो प्रधान आरक्षक व 4 आरक्षकों को लेकर मौके पर पहुंचे। उन्होंने पुलिस कर्मियों को शव उठवाकर मच्र्युरी भेजने के निर्देश दिए। इसी बीच चक्काजाम कर रहे ग्रामीणों ने शव उठाने का विरोध किया। वे मुआवजा देने और आरोपी चालक को गिरफ्तार करने की बात पर अड़ गए। मिश्रा ने ग्रामीणों को धौंस देकर कहा कि मृतका दूसरे थाना क्षेत्र की है और घटना चकरभाठा थाना क्षेत्र में हुई है फिर गांव वाले विरोध क्यों कर हे हैं। इस बात पर गांव में बवाल मच गया। मिश्रा ने तनावपूर्ण स्थित में पुलिस कर्मियों को लाठी भांजने कहा। पुलिस कर्मी लाठी भंजने लगे तो ग्रामीण और भड़क गए। ग्रामीणों ने पुलिस कर्मियों से लाठी छीनकर उन्हें मारने दौड़ाया। तनावपूर्व स्थित को देखते हुए एसआई मिश्रा और दूसरे पुलिस कमी मौके से भाग गए।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???