Patrika Hindi News

मुर्गियों को मारने पानी की टंकी में डाला जहर, उस पानी को पी लिया पोल्टीफार्म के मालिक ने, जाने फिर क्या हुआ

Updated: IST jahar
मुर्गियों को मारने पोल्टी फॉर्म की टंकी में मिलाया जहर

बिलासपुर. बिल्हा थानांतर्गत ग्राम झाल के एक पोल्टी फार्म की टंकी में मुर्गियों को मारने के लिए किसी ने जहर मिला दिया। इस पानी से कुल्ला करते ही युवक बेहोश हो गया। शिकायत पर पुलिस ने अपराध दर्ज कर लिया है।

मामले की छानबीन की जा रही है। बिल्हा पुलिस के अनुसार, ग्राम झाल निवासी रामफल चतुर्वेदी पिता रामधीन (38) गांव में पोल्ट्री फार्म चलाता है। 14 जुलाई की रात अज्ञात आरोपी ने पोल्ट्रीफॉर्म में घुसकर मुर्गियों के पिंजरे के पास बनी पानी टंकी में जहर मिला दिया। 15 जुलाई को शाम साढे 7 बजे रामफल का भतीजे रंजीत ने टंकी के पानी से कुल्ला किया। पानी मुंह में जाते ही वह बेहोश हो गया। उसे तत्काल उपचार के लिए बिल्हा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया गया।

उपचार के बाद उसे होश आ गया। अस्पताल से उसे छुट्टी दे दी गई। अस्पताल से मेमो पहुंचने पर पुलिस ने जांच शुरू की। रविवार को पुलिस ने पोल्टीफार्म की जांच की, जहां टंकी में भरे पानी में जहरीला कीटनाशक मिलाने की गंध आ रहा थी। पानी के सैंपल को जांच के लिए रायपुर स्थित पीएचई व फोरेंसिक के लैब भेज दिया है। पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ भादवि की धारा 328 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।

मछलियों को मारने तालाब में डाला था जहर: चकरभाठा थानांतर्गत ग्राम अमेरी निवासी अर्जुन गढ़ेवाल पिता संतराम गढ़ेवाल मछली व्यापारी हैं। उन्होंने घर के पास तालाब में मछलियां पाली थीं। 24 अप्रैल 2017 की रात तालाब में अज्ञात आरोपी ने जहर मिला दिया था। 25 मई को तालाब की सारी मछलियां मृत मिलीं। अर्जुन की शिकायत पर पुलिस ने जांच के लिए पानी का सेंपल पीएचई लैब भेजा था।

बोर में मिला जहरीला कीटनाशक: हिर्री थानांतर्गत बाइपास स्थित अमसेना चौक में लगे बोर से अमसेना समेत आसपास के गांवों में पानी की सप्लाई होती है। 17 मई की रात अज्ञात आरोपी ने बोर की पाइप खोलकर जहरीला कीटनाशक मिला दिया था। 18 मई को सुबह गांव के दो युवकों को बोर का पाइप खुला और पास ही जहरीले कीटनाश के डिब्बे और पाउच मिले थे। पुलिस ने पानी का सेंपल जांच के लिए रायपुर स्थित पीएचई लैब भेजा था।

2 महीने बीते, नहीं मिली जांच रिपोर्ट: ग्राम अमेरी के तालाब और अमसेना चौक के बोर में जहर मिलाने के मामले में सैंपल की जांच रिपोर्ट 2 माह बाद भी पुलिस को नहीं मिली। मामले की जांच अटकी हुई है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???