Patrika Hindi News

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में किसने क्या दिया झारखंड को तोहफा?

Updated: IST Jharkhand news, Global investors summit, investors
केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी, रतन टाटा और कुमार मंगलम बिरला समेत अन्य हस्तियों ने संबोधन किया...

बोकारो/रांची। केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि झारखंड एक बीमारू राज्‍य की छवि से बाहर आ गया है। उन्होंने कहा कि हम सभी को विकास का हिस्‍सा बनना होगा। कुछ लोग विकास के भी दुश्‍मन हैं। यहां के आदिवासियों को भी अच्‍छा जीवन जीने का अधिकार है। कुछ लोग उन्‍हें भड़काने का प्रयास कर रहे हैं और हम विविधता में एकता चाहते हैं।

स्मृति ईरानी ने कहा...

इस मौके पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि झारखंड की टेक्सटाइल पॉलिसी अच्छी है। देवघर में मेगा टेक्सटाइल पावर है। हैंडलूम के क्षेत्र में यहां के कई जिलों ने काफी अच्छी प्रगति की है। केंद्र ने यहां के बुनकरों को सहयोग भी किया है।

झारखंड में निवेश को गति देने के लिए पॉलिसी में काफी बदलाव किए हैं और निवेश प्रोत्साहत बोर्ड का भी गठन किया है। सबका साथ सबका विकास के लिए हमने काफी काम किया है।

धोनी ने कहा...

इस समिट में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी भी शामिल हुए और उन्होंने कहा कि मैं सभी लोगों का झारखंड में स्‍वागत करता हूं।⁠⁠ उन्होंने कहा कि राजनीतिक अस्थिरता के कारण यहां का समुचित विकास नहीं हो पाया है। मेरा यहीं जन्‍म हुआ है और बड़ा हुआ हूं, मुझे सेलेब्रिटी और क्रिकेटर की तरह न देखा जाए। मैं एक आम आदमी हूं।

रतन टाटा ने कहा...

झारखंड सरकार ने अपनी नीतियों में बदलाव किया है। इसका असर भी साफ दिख रहा है। लोग अब यहां निवेश के लिए आना चाह रहे हैं। नए भारत के निर्माण में झारखंड बड़ी भूमिका निभा सकता है। उक्त बातें प्रसिद्ध उद्योगपति रतन टाटा ने कही। उन्होंने कहा कि झारखंड से मेरा भावनात्मक लगाव है। मैंने यहीं से काम करना शुरू किया। इसके बाद मुंबई शिफ्ट किया।

कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में नए क्षेत्र में विकास हो रहा है। संभावनाएं तलाशी जा रही हैं। अंतरिक्ष, न्यूक्लियर जैसे क्षेत्र में तेजी से विकास हो रहा है। नया भारत बनाया जा रहा है।

कुमार मंगलम बिड़ला ने कहा...

ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में कुमार मंगलम बिड़ला ने कहा कि मैं इस समिट में शामिल होने को लेकर उत्साहित था। 1980 से ही यह इलाका उद्योग के लिए सबसे मुफीद रहा है। हमारा ग्रुप यहां पहले से कारोबार कर रहा है। नैचुरल रिसोर्स के साथ इस क्षेत्र में टैलेंट भी बहुत है।

रघुवर दास की टीम प्रो एक्टिव है। राज्य को आगे ले जाने का यह बेहतर मौका है। मुझे खुशी हुई जब ईज ऑफ डुइंग बिजनेस में झारखंड को छठे नंबर पर देखा। सिंगल विंडो क्लीयरेंस सिस्टम बेहतर है। आनेवाले समय में यहां पांच हजार करोड़ रुपए का निवेश हमारी कंपनी करने जा रही है। जहां दो हजार लोगों को सीधे तौर पर नौकरी मिलेगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???