Patrika Hindi News

Video Icon भांजी की मौत के वियोग में जलती चिता में कूद गया मामा

Updated: IST jumped into burning pyre
बुरहानपुर के मोरखड़ा गांव में कीटनाशक पीकर दी थी भांजी ने जान, दोपहर 12 बजे अंतिम संस्कार के दौरान चिता में कूद गया मामा, 55 फीसदी तक जला।

बुरहानपुर. भांजी की मौत के वियोग में मामा जलती चिता में कूद गया। सुनने को ये मामला अजीब हैलेकिन यह हकीकत में हुआ है। अंतिम संस्कार में मौजूद परिजनों ने ताबड़तोड़ मामा को चिता से बाहर निकाला और जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। फिलहाल मामा की हालत स्थित है। जिला मुख्यालय से 21 किमी दूर ग्राम मोरखेड़ा में दोपहर 12 बजे यह घटना हुई। मृतिका भांजी ज्योति की चिता जल रही थी। 28 साल वर्षीय मामा कालूसिंह फूट-फूटकर रो रहा था। अचानक आगे आकर चिता में कूद गया। मौजूद लोगों ने पैर पकड़कर उसे बाहर निकाला। लेकिन जब तक कालू 55 फीसदी जल चुका था। मामा खेती-बाड़ी करता है।

क्या है पूरा मामला
मैथा-खारी की ज्योति की शादी एक साल पहले महाराष्ट्र के कुरहा-काकोड़ा में हुई थी। फिलहाल ज्योति पति के साथ गांव में ही थी। गुरुवार शाम को दोनों में विवाद हुआ। विवाद बाद ज्योति ने कीटनाशक दवा पीली। गंभीर हालत में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया। देर रात यहां ज्योति ने दम तोड़ दिया। सुबह पोस्ट मार्टम के बाद अंतिम संस्कार में यह घटना हो गई।

Man admitted in burhanpur hospital
पिता बोले बचपन से साथ खेले
कालूसिंह के पिता बल्लू देवा ने कहा दोनों की बचपन से साथ रहे। खेलेकूदे और स्कूल पढऩे गए। एक साल पहले ही उसके हाथ पीले किए थे। अचानक ज्योति ने मौत का कदम उठा लिया। यह सदमा वह सहन नहीं कर पाया और खुद भी मौत को गले लगाने के लिए बेटे ने यह कदम उठाया। शाहपुर पुलिस के मुताबिक ज्योति का विवाद पति से 15 दिन से चल रहा था। जिसको लेकर गुरुवार को उसने कीटनाशक पी लिया।

केस दर्ज करेंगे
मोरखेड़ा में ज्योति ने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली है। मामा के भी चिता में कूदने की सूचना मिली है पूरा मामला समझकर केस दर्ज किया जाएगा। - संजय पाठक, टीआई शाहपुर थाना

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???