Patrika Hindi News

खराब नारियल से बन रहे खोपरे के पैकेट, सेहत से खिलवाड़

Updated: IST Khopre packets made of bad coconut, flirty Bhopal
जांच के लिए भेजेंगे भोपाल

बुरहानपुर. मैगी में फफूंद मिलने की शिकायत सामने आने के बाद खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग ने डीलर के यहां पहुंच गया। यहां पर मैगी के सैंपल लेकर खराब खोपरे को भी फिकवाया। यह सैंपल जांच के लिए भोपाल लेब भेजे जाएंगे।

शनिवार को गुरुगोविंद सिंह कॉलोनी में बायलॉजी के शिक्षक डॉ. संतोष सिरोलिया नाश्ते के लिए मैगी खरीद ले गए थे, जहां बनाते समय हरे रंग की फफूंद निकली थी। इसकी जानकारी मिलने पर खाद्य एवं औद्यधी प्रशासन विभाग जांच के लिए एस स्मार्ट सुपर बाजार और मैगी डीलर कान्हा इंटर प्राईजेस के यहां सोमवार को पहुंच गए। डीलर से मैगी के उस बैच का विक्रय रोकने के निर्देश दिए हैं और मैगी के सैंपल लिए हैं।

पैकिंग खाद्य सामग्री पर बोर्ड लगाने के निर्देश

खाद्य सुरक्षा अधिकारी कमलेश डाबर ने डीलर कान्हा इंटर प्राईजेस और एस स्मार्ट सुपर बाजार में जांच के दौरान पैकिंग में रखी खाद्य सामग्री के पास लूस का माल होने का बोर्ड लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पैकिंग का माल ग्राहक की सुविधा के लिए हैं, इस लिए उन्हें इसकी पूरी जानकारी होना चाहिए की यह कंपनी का है या लूस का। यहां से विभाग ने मखाना, सेव, किशमीश आदि के सैंपल भी लिए। जांच के गोदाम में रखा खोपरा खराब मिला। उस पर भी फफूंद उग रही थी। उसे हटाने के निर्देश दिए। संचालक विजय सावलानी ने बताया कि मैगी की शिकायत आने के बाद स्टॉक का विक्रय रोक दिया था और उस बेच का पूरा माल डिलर को वापस कर दिया था।

डीलर के यहां से मैगी पैकेट के नमूने लिए हैं। फफूंद लगी मैगी की बैच का विक्रय पर रोक लगा दी है। एस स्मार्ट सुपर बाजार में भी जांच की जहां से खराब खोपरा था, जिसे हटाने के निर्देश दिए और तीन सैंपल लिए हैं।

- कमलेश डाबर, जिला खाद्य अधिकारी

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???