Patrika Hindi News

> > Gold price slashed 400 hundred and silver 740

सोना 400 रुपए, चांदी 740 रुपए लुढ़की

Updated: IST Gold Price
वैश्विक स्तर पर पीली धातु के 10 महीने के निचले स्तर तक लुढ़क जाने से गुरुवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 400 रुपए टूटकर छह महीने के निचले स्तर 29,000 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया।

नई दिल्ली. वैश्विक स्तर पर पीली धातु के 10 महीने के निचले स्तर तक लुढ़क जाने से गुरुवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 400 रुपए टूटकर छह महीने के निचले स्तर 29,000 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। चांदी भी 740 रुपए लुढ़ककर लगभग छह महीने के निचले स्तर 40,700 रुपए प्रति किलोग्राम पर रही। एशियाई बाजारों में आज सोना हाजिर 10 महीने के निचले स्तर 1,163.45 डॉलर प्रति औंस तक उतर गया।

अमेरिका में मजबूत आर्थिक आंकड़े आने से बुधवार को भी इसमें भारी गिरावट दर्ज की गई थी। हालांकि, यूरोप में बाजार खुलने के बाद में इसकी गिरावट में कुछ कमी आई तथा लंदन में यह 3.80 डॉलर नीचे 1,168.20 डॉलर प्रति औंस बोला गया। फरवरी का अमेरिकी सोना वायदा भी 4.6 डॉलर फिसलकर 1,169.3 डॉलर प्रति औंस रहा। बाजार विश्लेषकों ने बताया कि बुधवार को अमेरिका में मजबूत आर्थिक आंकड़ों से वहां इस महीने ब्याज दरों में बढ़ोतरी की संभावना बढ़ी है, जिससे सोने पर दबाव आया है। इसके अलावा अगले राष्ट्रपति तौर पर निर्वाचित डोनाल्ड ट्रंप की नीतियों में ब्याज दरों में ज्यादा तेजी से बढ़ोतरी के संकेतों से भी पीली धातु कमजोर हुई है। लंदन में चांदी भी 0.12 डॉलर टूटकर 16.36 डॉलर प्रति औंस बोली गई।

सोने की मांग सामान्य

स्थानीय बाजार में सोने की मांग सामान्य रही। वैश्विक दबाव में सोना स्टैंडर्ड 400 रुपए की गिरावट के साथ 03 जून के बाद के निचले स्तर 29,000 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। सोना बिटुर भी इतना ही टूटकर 28,850 रुपए प्रति दस ग्राम बोला गया। गिन्नी भी कमजोर पड़ी और 50 रुपए उतरकर 24,350 रुपए प्रति आठ ग्राम के भाव बिकी। कमजोर औद्योगिक मांग और वैश्विक दबाव के मिलेजुले असर से चांदी हाजिर 740 रुपए का गोता लगाकर 09 जून के बाद के निचले स्तर पर 40,700 रुपए प्रति किलोग्राम रह गई।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???