> >

दिल्ली में आज नहीं चल रही है एप-आधारित टैक्सी, चालकों ने की हड़ताल

Updated: IST Drivers Strike
दिल्ली मेंएप-आधारित टैक्सी और ऑटो चालकों की 13 एसोसिएशन ने उबेर और ओला के खिलाफ हड़ताल पर चली गई है

नई दिल्ली। दिल्ली के यात्रियों को आज असुविधा का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि एप-आधारित टैक्सी और ऑटो चालकों की 13 एसोसिएशन ने उबेर और ओला के खिलाफ हड़ताल पर चली गई है। बता दें इस हड़ताल में ऑटो और काली-पीली टैक्सियां भी शामिल हो रही है। हड़ताली चालकों की मांग ओला और उबेर द्वारा 'शेयर' सेवा पर रोक लगाने, टैक्सियों को दिल्ली सरकार द्वारा अधिकृत मीटर से चलाने की है।

सर्वोदय ड्राइवर्स एसोसिएशन ऑफ दिल्ली के अध्यक्ष कमलजीत गिल ने बताया, "हमने ऐसी ही हड़ताल फरवरी में की थी। लेकिन उस वक्त इसमें केवल एक एसोसिएशन शामिल थी। इस बार 13 से ज्यादा यूनियनें हमारे साथ आंदोलन करेगी। गिल का कहना हैं, ये कंपनियां बहुत बड़ी ठग हैं। जैसे कोई सिनेमा का टिकट 'ब्लैक' करता है, वैसे ही यह कंपनियां अपना काम करती हैं। जब ज्यादा लोग होते हैं तो ये रेट बढ़ा देते हैं और उसे 'सर्ज प्राइसिंग' या 'पीक आवर' का नाम दे देते हैं। वे 6 रुपये प्रति किलोमीटर का रेट बताते हैं और आप 10-20 रुपये प्रति किलोमीटर का भुगतान करते हैं।

दिल्ली टैक्सी, टूरिस्ट ट्रांसपोटर्स एंड टूर ऑपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय सम्राट ने बताया, यह हड़ताल मुख्यत: ओला और उबेर चालकों द्वारा की जा रही है। लेकिन हम भी उनके समर्थन में आधे दिन तक हड़ताल में शामिल होंगे। वहीं, उबेर ने एक बयान में कहा, दिल्ली उच्च न्यायालय ने उबेर चालक भागीदारों को अपने काम के बारे में जाने से रोकने के लिए यूनियन नेताओं और सदस्यों को एक स्थायी निषेधाज्ञा जारी की है। हम अदालत के आदेश का स्वागत करते हैं और आशा करते हैं कि उबेर चालक बिना किसी डर या उत्पीडऩ के गाड़ी चलाएंगे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???