Patrika Hindi News

आचार संहिता लागू कराना सबसे बड़़ी चुनौती: जैदी

Updated: IST Nasim Zaidi
चुनाव आचार संहिता को लागू कराना शांति बनाये रखनाा तथा पैसे के दुरूपयोग को रोकना आयोग के समक्ष सबसे बड़़ी चुनौती

चंडीगढ़ । मुख्य चुनाव आयुक्त डा. नसीम जैदी ने विधानसभा चुनाव प्रबंध पर संतोष जताते हुये कहा कि चुनाव आचार संहिता को लागू कराना शांति बनाये रखनाा तथा पैसे के दुरूपयोग को रोकना आयोग के समक्ष सबसे बड़़ी चुनौती है। डा. जैदी के नेतृत्व मेें आयोग का तीन सदस्यीय दल तथा आयोग के अधिकारी कल यहां चुनाव प्रबंधों का जायजा लेने यहां पहुंचे थे।

उन्होंने सभी राजनीतिक दल के प्रतिनिधियों, मुख्य सचिव, गृह सचिव सहित प्रशासनिक तथा वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों, जिला उपायुक्तों से अलग, अलग बैठक की ।

डा. जैदी ने प्रेस कांफ्रेस में कहा कि वह चुनाव प्रबंधों को लेकर संतुष्ट हैं तथा पंजाब की जनता को आश्वस्त करते हैं कि वे निर्भय होकर ज्यादा से ज्यादा मतदान में भाग लें और किसी के दबाव तथा प्रलोभन में न आयें ।राज्य में पहले से अधिक केन्द्रीय अद्र्ध सैनिक बलों की तैनाती की जा रही है।

उन्होंने आयोग की प्रतिबद्धता दोहराते हुये कहा कि हर हाल मेें चुनाव शांतिपूर्ण.स्वतंत्र और निष्पक्ष कराये जायेंगे 1सभी हलका इंचार्ज को पुलिस के मामलों में दखल देने पर सख्त ऐतराज जताया है । मतदान ईवीएम मशीनों के जरिये होगा 1 चुनाव के समय राज्य में अद्र्ध सैनिक बलों की संख्या पूछे जाने पर मुख्य चुनाव आयुक्त ने इस बारे में कुछ भी बताने से साफ इंकार करते हुये कहा कि आयोग राज्य की जनता को आश्वस्त करता है कि केन्द्रीय बलों की संख्या ज्यादा संख्या में होगी।

उन्होंने कहा कि अन्न वितरण भी हमारे अधिकारियों की मौजूदगी में होगा। किसी भी राजनीतिक दल को राजनीतिक लाभ नहीं लेने दिया जायेगा। जिन नेताओं के पास अनावश्यक गनर हैं पुलिस महानिदेशक रिव्यू करने के बाद वापस लिये जायेंगे ।मापदंड के हिसाब से सुरक्षा प्रदान की जायेगी।

डा0 जैदी ने कहा कि नशा .तस्करी .शराब .कैश के मूवमेंट पर पैनी नजर है। भारत पाक सीमा तथा अंतर राज्यीय सीमा पर चौकसी बढ़ा दी है ताकि इन पर रोक लगायी जा सके । अपराधी .गुंडे.माफिया .भगोडे .जेल से फरार और अन्य असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगाह रखी जा रही है।

उन्होंने कहा कि जेल विभाग से लेकर अन्य पुलिस अधिकारियों के संपर्क बना रहेगा। इसके अलावा जो अधिकारी राजनीतिक दलों को लाभ पहुंचाते पाये गये उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही होगी। आयोग चुनाव संपन्न होने तक समूची प्रक्रिया पर पैनी नजर रखे है । उन्होंने बताया कि आयोग ने पूरा प्रयास किया है कि कोई मतदाता मताधिकार से वंचित न रहे। इस बार 1.97 करोड़ युवकों को सूची में जोड़ा गया है जो इस बार चुनाव में अहम भूमिका निभायेंगे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???