Patrika Hindi News

> > > > Reservations should be based on the number: Saini

संख्या के आधार पर दिया जाए आरक्षण : सैनी

Updated: IST rajkumar saini
राजकुमार सैनी ने कहा कि आरक्षण देना ही है तो संख्या के आधार पर दिया जाए, जिससे कि किसी वर्ग का हक ना मारा जा सके

चंडीगढ़। हरियाणा के सोनीपत जिले में आयोजित एक कार्यक्रम में पहुंंचे राजकुमार सैनी ने कहा कि कुछ लोग कमजोर वर्ग के हित पर डाका डालने की बात कर रहे हैं, लेकिन उनकी मांग है कि अगर आरक्षण देना ही है तो संख्या के आधार पर दिया जाए। जिससे कि किसी वर्ग का हक ना मारा जा सके।

सांसद राजकुमार सैनी ने कहा कि कुछ लोगों ने राजनैतिक पूर्ति के लिए प्रदेश के भाईचारे को बिगाडऩे का काम किया है। इन लोगों को ऐसा नहीं करना चाहिए। सांसद सैनी ने कहा कि लठतंत्र के बल पर अपनी मांगों को मनवाने की कोशिश करने वालों को यह जान लेना चाहिए कि इस देश में प्रजातंत्र चलता है। कुछ लोग लठ के जोर पर अपनी ताकत दिखा रहे हैं और आरक्षण भी मांग रहे हैं। ऐसे में अगर आरक्षण दिया जाना है तो फिर ऐसी व्यवस्था करनी चाहिए कि हर वर्ग को उसकी संख्या के मुताबिक आरक्षण मिले। फिर चाहे राज कोई भी करे।

सांसद ने कहा कि भीमराव अंबेडकर ने हम सबको एक ताकत दी है कि हमें उसे एकजुट होकर लागू रखना है। उन्होंने कहा कि जाति विशेष या व्यक्ति विशेष पर उन्होंने आज तक कोई टिप्पणी नहीं की, लेकिन उनके ऊपर हुए जानलेवा हमले को सिर्फ स्याही का रंग दिया जा रहा है। उन्हें पूरा पूर अंदेशा है कि इनेलो कंपनी के लोगों ने उनके ऊपर यह हमला करवाया। सांसद सैनी ने कहा कि हमें एक होकर अपना हक लेना होगा। हम किसी के दुश्मन नहीं है, लेकिन भाईचारे में आप लोग सिर्फ चारा बनकर मत रहो, ऐसा भाईचारा किसी काम का नहीं होता।

राजकुमार सैनी ने कहा कि देश का प्रजातंत्र आज बैसाखियों के सहारे आ गया है। जनता द्वारा चुनकर भेजे गए एमपी बिल पास करने के बाद भी राज्यसभा का मुंह ताकते रहते हैं। उन्होंने कहा कि राज्यसभा अंग्रेेजों का सदन है, देश हित में इसे समाप्त कर देना चाहिए। उन्होंने 28 नवंबर को कुरुक्षेत्र में आयोजित समानता सम्मेलन का लोगों को न्यौता दिया।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???