Patrika Hindi News

साधक जाति से नहीं कर्म से जैन बने

Updated: IST chennai
समणीवृंद सुयशनिधि और सुधननिधि के सान्निध्य में अमरीका के न्यू जर्सी स्थित अदिति जैन के आवास पर

चेन्नई।समणीवृंद सुयशनिधि और सुधननिधि के सान्निध्य में अमरीका के न्यू जर्सी स्थित अदिति जैन के आवास पर युवा वर्ग के लिए विशेष धर्मचर्चा और प्रवचन आयोजित किया गया। इस मौके पर युवाओं को धार्मिक जीवन का महत्व बताते हुए साध्वी सुयशनिधि ने कहा कि साधक जाति से जैन हो नहीं लेकिन उससे ज्यादा कर्म से हमें जैन बने रहना होगा। आचार व विचार शुद्ध होने पर साधक अहिंसामय बन जाता है। अहिंसा ही परम धर्म है। युवावर्ग को भौतिकता की चकाचौंध में डूबना नहीं चाहिये। उन्होंने कहा कि बचपन से अच्छे संस्कारों का बीजारोपण होगा तो स्वस्थ्य समाज व देश का निर्माण हो सकेगा।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???