Patrika Hindi News

> > > > To encourage those working in the Hindi

हिन्दी में काम करने वालों को करें प्रोत्साहित

Updated: IST chennai news
यहां स्थित केन्द्र सरकार के कार्यालयों में राजभाषा कार्यान्वयन की शीर्ष समिति नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की 53वीं बैठक सोमवार को राष्ट्रीय समुद्र प्रौद्योगिकी संस्थान, पल्लीकरणै

चेन्नई. यहां स्थित केन्द्र सरकार के कार्यालयों में राजभाषा कार्यान्वयन की शीर्ष समिति नगर राजभाषा कार्यान्वयन समिति की 53वीं बैठक सोमवार को राष्ट्रीय समुद्र प्रौद्योगिकी संस्थान, पल्लीकरणै के सभाकक्ष 'सागर संगमम' में आयोजित हुई। बैठक की अध्यक्षता समिति के अध्यक्ष दक्षिण रेलवे के महाप्रबंधक वशिष्ठ जौहरी ने की। बैठक में राष्ट्रीय समुद्र प्रौद्योगिकी संस्थान, चेन्नै के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं समूह प्रधान जी.ए.रामदास ने भी बैठक में हिस्सा लिया।

दीप प्रज्वलन के बाद दक्षिण रेलवे के मुख्य राजभाषा अधिकारी केवल कृष्ण शर्मा ने स्वागत स्वागत भाषण पेश किया एवं यहां के कार्यालयों में राजभाषा में कामकाज की स्थिति पर प्रकाश डाला। साथ ही उन्होंने विगत छह महीने के दौरान आयोजित पांच हिंदी प्रतियोगिताओं के बारे में बताया कि इन प्रतियोगिताओं में विभिन्न सदस्य कार्यालय के सैकड़ों अधिकारियों एवं कर्मचारियों के शामिल होने से साबित होता है कि कार्यालयों में हिंदी में काम अच्छी तरह से हो रहा है। साथ ही इन कार्यालयों में हिंदी के प्रशिक्षण पर विशेष जोर दिया।

डॉ.जी.ए. रामदास ने राष्ट्रीय समुद्र प्रौद्योगिकी संस्थान के महत्व और उसकी गतिविधियों के बारे में बताया और अपने कार्यालय में हो रहे हिंदी कामकाज का संक्षिप्त विवरण दिया।

दक्षिण रेलवे के उपमहाप्रबंधक (राजभाषा) डॉ. दीनानाथ सिंह ने सदस्य कार्यालयों में हिंदी के प्रयोग की स्थिति की समीक्षा की तथा रिपोर्ट के आधार पर कमियां बताते हुए उनको दूर करने का उपाय भी सुझाया। बैठक में समिति की पत्रिका 'पल्लविका' का विमोचन किया गया एवं विभिन्न हिंदी प्रतियोगिताओं के 42 विजेता अधिकारियों-कर्मचारियों को पुरस्कृत किया गया।

अध्यक्षीय संबोधन में वशिष्ठ जौहरी ने कहा सभी कार्यालय प्रधान एवं अधिकारी अपने कामकाज के साथ हिंदी के कामकाज पर भी उतना ही ध्यान दें और हिंदी में काम करने वाले अधिकारियों- कर्मचारियों को प्रोत्साहित करें तथा सरकार द्वारा घोषित प्रोत्साहन योजनाओं को अवश्य लागू करें।

उन्होंने कार्यालय प्रधानों एवं वरिष्ठ अधिकारियों को स्वयं हिंदी में काम करने की सलाह दी ताकि उनसे प्रेरणा लेकर कार्यालय के अन्य अधिकारी-कर्मचारी भी हिंदी में काम करें। संचालन दक्षिण रेलवे की वरिष्ठ राजभाषा अधिकारी महेश्वरी रंगनाथन एवं भारतीय नौवहन निगम लिमिटेड के महाप्रबंधक (कार्मिक व प्रशासन) एम.पी. सिंह ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???