Patrika Hindi News

रेत माफियाओं की धमकी पर कड़ी सुरक्षा में पेशी पर कोर्ट पहुंचीं आईएएस

Updated: IST IAS to court on tight security on threat of sand m
खनन माफियाओं पर की थी कार्रवाई, आईएएस सोनिया मीना उमरिया में सीईओ पद पर हैं, एसडीएम राजनगर पद से हुआ था तबादला।

छतरपुर. जिले के राजनगर में एसडीएम पर पद पर पदस्थ रहीं और वर्तमान में जिला पंचायत उमरिया की मुख्य कार्यपालन अधिकारी आईएएस सोनिया मीना भारी सुरक्षा के बीच पेशी पर उपस्थित होने के लिए न्यायालय पहुंची। इस दौरान उन्होंने अपने बयान दर्ज कराए। हालांकि आरोपियों के अधिवक्ता के मौजूद न होने पर न्यायालय ने मामले की तारीख बढ़ा दी गई है।

पिछले दिनों एसडीएम राजनगर सोनिया मीना का तबादला उमरिया कर दिया गया था। पिछले महीने सोनिया मीना ने मुख्य सचिव मप्र शासन को पत्र लिखकर सूचना दी थी कि उन्हें विश्वस्त सूत्रों से पता चला है कि उन्हें धमकी दी है। इसलिए उन्हें सुरक्षा व्यवस्था प्रदान की जाए।

जिस पर उमरिया प्रशासन द्वारा उन्हें एक पीएसओ उपलब्ध करा दिया है। छतरपुर जाने के दौरान भी उन्हें सुरक्षा मुहैया कराए जाने का आश्वासन दिया गया था। इस मामले की पेशी सोमवार को छतरपुर जिला न्यायालय में विशेष न्यायाधीश रत्नेशचंद्र सिंह विसेन की अदालत में थी।

पेशी में शामिल होने के लिए आईएएस सोनिया मीना उमरिया से यहां आई और विशेष जज की अदालत में पहुंची। इस दौरान उन्होंने अपने बयान भी दर्ज कराए। अभी तक इस मामले में तीन लोगों की गवाही हो चुकी है। हालांकि सोमवार को आरोपी के अधिवक्ता के मौजूद न होने पर इस मामले की तारीख न्यायालय ने बढ़ा दी है। उधर आईएसएस की सुरक्षा व्यवस्था में छतरपुर पुलिस भी तैनात रही

ये है मामला
राजनगर की तत्कालीन एसडीएम सोनिया मीना 8 फरवरी को अवैध रेत के परिवहन व रेत भड़ारण के खिलाफ कार्रवाई कर रही थीं। तभी रास्ते में रेलवे स्टेशन के पास एक ट्रैक्टर निकल रहा था। जिस पर उन्होंने अपने सुरक्षा गार्ड भगवंत सिंह को ट्रैक्टर रुकवाने को कहा था। इस दौरान ट्रैक्टर को रोकने के बाद उसे बमीठा थाने में खड़ा कराने के लिए ले जाया जा रहा था।

तभी रास्ते में ट्रैक्टर के ड्राइवर ने ट्रैक्टर मालिक के घर के बाहर जैसे ही ट्रैक्टर को रोका तभी उसका मालिक अर्जुन सिंह निकला था और उसने सुरक्षा गार्ड भगवंत सिंह पर बंदूक तानकर ट्रैक्टर छुड़ा ले गया। इसके बाद ट्रैक्टर मालिक व ट्रैक्टर चालक ट्रैक्टर को लेकर फरार हो गए थे। तब पुलिस ने चालक व ट्रैक्टर मालिक के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया था। इसके बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इसी मामले में सोनिया मीना को अदालत में पेश होना था

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???