Patrika Hindi News

संविदा कर्मचारियों की हड़ताल से जिला अस्पताल में हो रही मौतें

Updated: IST chhindwara
जिला अस्पताल में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों की हड़ताल से मरीजों को समय पर सेवाएं नहीं मिल रही है। इससे अस्पताल में भर्ती मरीजों की मौतों का मामला सामने आया है।

छिंदवाड़ा. जिला अस्पताल में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों की हड़ताल से मरीजों को समय पर सेवाएं नहीं मिल रही है। इससे अस्पताल में भर्ती मरीजों की मौतों का मामला सामने आया है। जेल बगीचा के सामने गुरुवार को भी संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के बैनर तले कर्मचारी धरने पर बैठे रहे। संघ के पदाधिकारियों का कहना पड़ा कि सरकार उनकी मांगों पर विचार नहीं कर रही है।

संगठन का दावा है कि जिला अस्पताल में संविदा कर्मचारियों के न रहने से मरीज परेशान हो गए हैं। उनकी सेवाओं के न मिलने से अब तक 16 बच्चे, छह महिलाएं और पांच पुरुषों की मौत हो गई है। उनके अनुसार मंगलवार को मैदानी स्तर पर महिलाओं और बच्चों का टीकाकरण भी नहीं हो पा रहा है। बुधवार को रोशनी क्लीनिक में गर्भवती महिलाओं की जांच भी नहीं हो सकी। इसी तरह पैथालॉजी जांच पर भी असर पड़ा है।

मलेरिया का सर्वेक्षण और डाटा एंट्री का पोर्टल पूर्णत: बंद हो चुका है। आरबीएस के कार्यक्रम के हितग्राही प्रभावित हुए हैं। ब्लड की जांच संबंधी कार्य प्रभावित होने से मरीजों का इलाज नहीं हो पा रहा है। धरने में संघ उपाध्यक्ष संजय बाउस्कर, राजेन्द्र इरपाची, अंकिता साहू समेत अन्य पदाधिकारी बैठे रहे।

जनवरी माह का नहीं मिला वेतन

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों को जनवरी माह का वेतन नहीं मिल सका है। सीएमएचओ कार्यालय में मौजूद लेखा कर्मचारी उनकी तनख्वाह ही नहीं बना रहे हैं। उन्होंने इस पर आक्रोश जताया है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???