Patrika Hindi News

हज यात्रा के किराए में 20 हजार रुपए तक का इजाफा

Updated: IST haj
वर्ष 2018 में पूर्ण रूप से खत्म हो सकती है सब्सिडी

छिंदवाड़ा/नागपुर. मुस्लिम वर्ग की सबसे बड़ी व पाक हज यात्रा के किराए में इजाफा हो गया है। दरअसल, हज यात्रा की सब्सिडी खत्म कर दिए जाने से हवाई किराए में बढ़ोतरी हुई है। हालांकि इसके बावजूद अकीदतमंदों की संख्या में कमी नहीं आई है। इस बार हज यात्रियों की संख्या में इजाफा हुआ है। पिछले साल के मुकाबले इस बार नागपुर इम्बारकेशन प्वाइंट से करीब एक चौथाई हज यात्री ज्यादा होंगे।

सेंट्रल तंजीम कमेटी के सचिव हाजी मो. कलाम ने बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने वर्ष 2012 में हज सब्सिडी 10 साल में खत्म करने के आदेश दिए थे, लेकिन केंद्र सरकार ने पांच साल में ही सब्सिडी 75 प्रतिशत से ज्यादा घटा दी है। अगले वर्ष तक सब्सिडी पूरी तरह खत्म हो सकती है। सब्सिडी कम होने से इस बार किराए में इजाफा हो गया है।

हज यात्रियों की दो श्रेणी

उल्लेखनीय है कि साल 2016 में महाराष्ट्र राज्य का हज यात्रियों का कोटा 7 हजार 556 था, जो इस वर्ष 9 हजार 780 हो गया है। हज यात्री मुख्य रूप से दो श्रेणी के होते हैं, एक ग्रीन और दूसरे अजीजिया। साल 2016 में अजीजिया श्रेणी का किराया 1 लाख 84 हजार 650 रुपए था और ग्रीन श्रेणी का किराया 2 लाख 18 हजार 550 रुपए। इस बार अजीजिया श्रेणी के किराए में 20 हजार 250 रुपए और ग्रीन श्रेणी में 19 हजार 750 रुपए की बढ़ोतरी की गई है। हवाई यात्रा का किराया करीब 62 हजार 65 रुपए है।

श्रेणी के यह हैं मायने

ग्रीन श्रेणी में वे हज यात्री आते हैं, जिन्हें काबा से एक से डेढ़ किमी के आसपास रहने का मौका मिलता है। अजीजिया में वे होते हैं जो काबा से आठ-नौ किमी के दायरे में रहते हैं। नागपुर एम्बारकेशन प्वाइंट से हज पर जाने वाले ग्रीन श्रेणी के यात्री को इस बार 2 लाख 38 हजार 300 रुपए देना पड़ेगा, जो साल 2016 के मुकाबले 19 हजार 750 रुपए अधिक है। ज्ञात हो कि साल 2016 में 2 लाख 18 हजार 550 रुपए और साल 2015 में 2 लाख 12 हजार 850 रुपए शुल्क भरना पड़ा था। अजीजिया श्रेणी के यात्री को इस बार 2 लाख 4 हजार 900 रुपए भरना पड़ेगा, जो पिछले साल के मुकाबले 20 हजार 250 रुपए अधिक है। 2016 में 1 लाख 84 हजार 650 रुपए तथा 2015 में 1 लाख 80 हजार रुपए अदा करना पड़ा था।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???