Patrika Hindi News

सावन की झड़ी, फिर भी यहां सूखा...जानिए

Updated: IST barish
सावन मास में शहर में बारिश होती जरूर दिखाई दे रही है लेकिन कन्हरगांव डैम के जलभराव क्षेत्र में पानी न बरसने से पेयजल संकट के आसार बन गए हैं।

छिंदवाड़ा. सावन मास में शहर में बारिश होती जरूर दिखाई दे रही है लेकिन कन्हरगांव डैम के जलभराव क्षेत्र में पानी न बरसने से पेयजल संकट के आसार बन गए हैं। इस डैम में अत्यंत कम पानी शेष होने से नगर निगम के पदाधिकारी और अधिकारी चिंता में पड़ गए हैं। इस समस्या से निपटने के लिए मंगलवार शाम 4 बजे जलप्रदाय समिति की आपात बैठक बुलाई गई है। इस बैठक में एक दिन के अंतराल में पेयजल आपूर्ति का निर्णय लिया जा सकता है।

शहरी पेयजल आपूर्ति के इस केन्द्र जलाशय में जल भराव परासिया,उमरेठ, सांवरी और कन्हरगांव के नदी-नालों के बरसाती पानी पर निर्भर है। इस बारिश सीजन में इस क्षेत्र में पानी न गिरने से ये नदी-नाले न आेवर फ्लो हुए और ना ही इनका पानी डैम में पहुंचा। इसके चलते जुलाई का पहला पखवाड़ा बीतने पर यहां का पानी 706.08 मीटर पर ठहरा हुआ है। शहर को रोज पेयजल आपूर्ति से प्रतिदिन पानी का स्तर घट रहा है।

नगर निगम के कर्मचारियों का कहना है कि पिछले वर्ष इस अवधि में करीब 708 मीटर पानी संग्रहित हो गया था। सितम्बर बीतते-बीतते 713.80 मीटर पूरी क्षमता से डैम में पानी आ गया था। इसके चलते जल संसाधन विभाग ने रबी सीजन में किसानों को पानी भी दिया था। इस बार इंद्रदेव की कृपा जलभराव क्षेत्र में न होने से परेशानी खड़ी हो गई है। डैम में अत्यंत कम पानी होने पर डैड स्टोरेज के उपयोग की नौबत बन सकती है। यह भी समस्या का समाधान नहीं होगा।

एक दिन के अंतराल में मिल सकता है पानी
नगर निगम के जल प्रदाय विभाग के सभापति संतोष राय का कहना है कि कन्हरगांव डैम के क्षेत्र में पानी न गिरने से नगर निगम की चिंता बढ़ गई है। इससे शहरी पेयजल आपूर्ति गड़बड़ा सकती है। उन्होंने इस समस्या पर विचार-विमर्श के लिए मंगलवार को शाम 4 बजे दीनदयाल पानी टंकी स्थित ऑफिस में बैठक बुलाई है। इस बैठक में एक दिन के अंतराल में पानी आपूर्ति का फैसला लिया जा सकता है। उनके अनुसार शहरी और ग्रामीण इलाकों में हैंडपंप और बोर नियमित चल रहे हैं।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???