Patrika Hindi News

रेलवे में की नेता गिरी तो होगा अब यह हश्र

Updated: IST train
वर्षों से जमे यूनियन पदाधिकारियों के ट्रांसफर की तैयारी

छिंदवाड़ा/नागपुर. रेलवे में जो कर्मचारी-अधिकारी नेता गिरी करते हैं, उनके पर करतने की तैयारी रेलवे बोर्ड ने कर ली है। दरअसल, रेलवे में यूनियनबाजी बेहद बढ़ गई है। इससे कई काम प्रभावित हो रहे हैं। अब परेशान रेलवे बोर्ड ने एक ही जगह जमे यूनियन पदाधिकारियों के तबादले का रास्ता निकाला है।

इस आशय का रेलवे बोर्ड का एक आदेश भी सभी जोन को भेज दिया गया है। कुल मिलाकर अब एक ही स्टेशन या मंडल में वर्षों से नौकरी कर रहे यूनियन पदाधिकारियों को भी नौकरी बचाने के लिए स्थानांतरण के आदेश को मानना होगा।

300 अधिकारी-कर्मचारी

रेलवे के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बोर्ड के आदेश के बाद से नागपुर मंडल के भी रेल यूनियनों के पदाधिकारियों के हड़कम्प मचा हुआ है। हालांकि इस बारे में कोई भी सामने आकर बात नहीं करना चाहता। खासकर उन पदाधिकारियों के लिए जो यूनियन की वजह से एक ही जगह पर जमे हुए हैं। मंडल के तहत परिचालन, वाणिज्य, इंजीनियरिंग,0 सीएंडडब्ल्यू, कंस्ट्रक्शन, इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल, कमर्शियल विभाग में ऐसे करीब 300 से अधिक अधिकारी-कर्मचारी हैं जिनके ट्रांसफर नहीं हुए।

उल्लेखनीय है कि रेलवे के हर विभाग में ऐसे सैकड़ों कर्मचारी हैं जो किसी न किसी रेल यूनियन में पद पर हैं और इसी की आड़ में अपने ट्रांसफर बचा लिया करते हैं। हालांकि इस बार बोर्ड ने सख्ती करते हुए साफ किया अहै कि जो रेलकर्मी एक ही जगह पर वर्षों से काम कर रहे हैं, उनका भी तबादला किया जाए, भले ही वह किसी भी यूनियन से जुड़े हों।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???