Patrika Hindi News

> > > > While increasing the demand for corn procurement on support price

समर्थन मूल्य पर मक्का खरीदी का समय बढ़ाने की मांग

Updated: IST sihora mandi labour strike,
आज सरकारी खरीदी का आखिरी दिन...किसान मोर्चा और कांग्रेस के प्रतिनिध मिले कलेक्टर से

छिंदवाड़ा. समर्थन मूल्य पर सरकार द्वारा मक्का खरीदी बुधवार 30 नवंबर तक होनी है। इधर आखिरी दो तीन दिनों में समितियों के दरवाजों में किसानों की भीड़ लग रही है। अचानक आए किसानों को देखकर समितियों के हाथ पांव फूल रहे हैं। इधर मंगलवार को नेता भी जाग उठे और कलेक्टर के पास पहुंचकर सरकारी उपार्जन की तारीख लगभग एक महीना बढ़ाने की मांग की। कलेक्टर के अलावा मुख्यमंत्री को इस संबंध में पत्र लिखकर तारीख बढ़ाने की बात कही गई है। इधर जिले में तारीख को आगे बढ़ाने के संबंध में मंगलवार की देर शाम तक कोई निर्देश नहीं आए थे। जिले में मंगलवार तक 3 लाख क्विंटल मक्का संग्रहित हो चुका था। हालांकि यह निर्धारित लक्ष्य 9 लाख क्ंिवटल से बहुत कम है।

पिछले सप्ताह केंद्रों में था सन्नाटा

पिछले सप्ताह तक जिले के अधिकांश खरीदी केंद्रों में सन्नाटा पसरा था। 77 में से 50 केंद्रों में मक्का का एक दाना नहीं आया था। सात दिनों के अंतराल में किसान समितियों के केंद्रों पर अचानक पलटे और एक सप्ताह में ही ढाई लाख क्विंटल से ज्यादा मक्का सरकार को बेचा। मक्का खरीद रही समितियों के कर्मचारी अचानक ज्यादा आए अनाज को लेकर परेशान भी दिखे। भंडारण के साथ उसके उठाव की भी समस्या उनके सामने आ रही है। 30 तारीख आखिरी दिन है और समितियों में अनाज खरीदी का दबाव भी बढ़ रहा है।

किसान मोर्चा और राजनैतिक दल भी सक्रिय

खरीदी का समय बढ़ाने को लेकर किसान मोर्चा और राजनैतिक दल भी मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुंचे। भाजपा किसान मोर्चा ने एक महीना तारीख बढ़ाने की मांग करते हुए कलेक्टर से मिलकर चर्चा की। मुख्यमत्री की नाम एक आवेदन भी उन्होंने दिया। प्रतिनिधिमंडल में चौधरी रामेसिंग, दीपक कुर्मी, अलकेश साव, रामभरोस पटेल, गोपाल कराड़े, बिल्लू पटेल, मनोज देवरे, देवचंद यादव आदि शामिल थे। इधर कांग्रेस का कहना है कि खरीदी केंद्रों में पंजीकृत किसान पहुंच रहे हैं।

जिला अध्यक्ष गंगाप्रसाद तिवारी के नेतृत्व में पहुंचे प्रतिनिधिमंडल ने कलेक्टर को बताया कि अकेले चांद क्षेत्र में 50 हजार क्विंटल मक्का को लेकर किसान बेचने तैयार है। बुधवार तक यह संभव नहीं है। अगर तारीख बढ़ाई नहीं गई तो किसानों का नुकसान होगा। उन्होनंे भी इसकी तारीख बढ़ाने की बात कही। ज्ञापन देते समय चौरई ब्लाक अध्यक्ष बैजूलाल वर्मा पूर्वविधायक गंभीरसिंह चौधरी समिति अध्यक्ष देवेंद्रसिंह पटेल, सांसद प्रतिनिधी ऋ षि वैष्णव, नगर कांग्रेस अध्यक्ष बालमुकुंद अयोधी उपस्थित थे।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???