Patrika Hindi News

विदेशों में क्यों नहीं चलते सबसे तेज 250 टेस्ट विकेट लेने वाले अश्विन

Updated: IST
ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने खुद को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ ऑफ स्पिनर के रूप में स्थापित कर लिया है। हर मैच के साथ उनका प्रदर्शन निखरता जा रहा है और वे नए-नए कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं।

मनोज शर्मा

हैदराबाद। ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन अपने करियर के सबसे बेहतरीन दौर से गुजर रहे हैं। हर सीरीज के साथ उनके रिकॉर्ड की संख्या बढ़ती जा रही है। अब अश्विन ने बांग्लादेश के खिलाफ हैदराबाद टेस्ट में एक नया वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया है। उन्होंने केवल 45 टेस्ट मैचों में 250 विकेट लेकर डेनिस लिली के बरसों पुराने रिकॉर्ड को तोड़ दिया। लेकिन यही गेंदबाज जब ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड या दक्षिण अफ्रीका की पिचों पर खेलता है, तो साधारण दर्जेे का गेंदबाज नजर आने लगता है। तो क्या यह माना जाना चाहिए कि अश्विन घरेलू पिचों के ही शेर हैं।

विदेशी पिचों पर अश्विन के हाथ नहीं लगी कोई खास सफलता
भारत के लिए सबसे तेज 100, 200 और 250 विकेट लेने वाले अश्विन ने इंग्लैंड में दो टेस्ट मैच खेले हैं और केवल तीन विरोधी खिलाड़ियों को आउट करने में सफल हो पाए। ऑस्ट्रेलिया में भी उनका रिकॉर्ड उतना बेहतर नहीं है, वहां खेले 6 टेस्ट मैचों में वह सिर्फ 21 विकेट हासिल कर सके। दक्षिण अफ्रीका में खेले 1 टेस्ट मैच में तो वह खाता खोलने में भी विफल रहे। अगर यह कहा जाए कि घरेलू और एशियाई विकेटों पर बल्लेबाजों को अपनी स्पिन पर नचाने वाले अश्विन, ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की पिचों पर एक साधारण गेंदबाज जैसा प्रदर्शन करते हैं, तो इसमें कुछ गलत नहीं होगा। हालांकि यह भी सच है कि विदेशी धरती पर उन्होंनेे अभी काफी कम मैच खेले हैं।

डेनिस लिली ने 48 मैचों में लिए थे 250 विकेट
लंबे कद के भारतीय ऑफ स्पिनर ने 250 विकेट का जादुई आंकड़ा छूने के लिए ऑस्ट्रेलिया के महान गेंदबाज डेनिस लिली से 3 टेस्ट मैच कम खेले हैं। पाकिस्तान के महान तेज़ गेंदबाज़ वकार युनुस भी लिली का रिकॉर्ड नहीं तोड़ सके थे। इससे पता चलता है कि अश्विन का यह रिकॉर्ड कितना महत्वपूर्ण है। अश्विन सबसे तेजी से 100 टेस्ट विकेट लेने के मामले में दुनिया में छठे नंबर पर थे, तो 200 टेस्ट विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में उनका स्थान दूसरा था।

2016 में बने थे बेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर
अश्विन इस वक्त बेहद शानदार क्रिकेट खेल रहे हैं। साल 2016 में आईसीसी ने उन्हें बेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर और टेस्ट क्रिकेटर ऑफ द ईयर का खिताब दिया था। आज अश्विन सबसे तेज 250 विकेट लेने के रिकॉर्ड की दहलीज पर थे और इसके लिए उन्हें सिर्फ एक विकेट की जरूरत थी। बांग्लादेश के कप्तान मुशफिकुर रहीम को 127 रन पर आउट करके उन्होंने इस मुकाम को हासिल कर लिया। टेस्ट के तीसरे दिन उन्होंने शाकिब को अपना 249वां शिकार बनाया था।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???