Patrika Hindi News

टीम में नहीं थे जॉन्टी रोड्स फिर भी बने थे मैन ऑफ द मैच

Updated: IST Jonty Rhodes
साउथ अफ्रीकी प्लेयर जॉन्टी रोड्स को दो बार टीम में नहीं होने के बावजूद मिला था मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड। जानिए कैसे...

नई दिल्ली। क्या आप सोच सकते हैं किसी प्लेयर को बिना मैच खेले मैन ऑफ द मैच का अवार्ड मिल सकता है? नहीं ना, लेकिन ऐसा ही हुआ है 1993 में, जब साउथ अफ्रीकी क्रिकेटर जॉन्टी रोड्स को वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच में ये अवॉर्ड मिला था।

रोड्स के साथ दो बार हुआ ऐसा...
1993-94 में वेस्टइंडीज-साउथ अफ्रीका के बीच मैच मुंबई के ब्रेबॉर्न स्टेडियम में हो रहा था। हीरो कप के इस मैच में जोन्टी रोड्स अफ्रीकी टीम की प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं थे। साउथ अफ्रीका ने पहले बैटिंग करते हुए 40 ओवर में 180 रन बनाए। वेस्ट इंडीज के दिग्गजों के कारण अफ्रीकी टीम की हार तय लग रही थी, लेकिन रोड्स ने मैच का पासा पलट दिया।

डेरेल कुलीनन के चोटिल होने के कारण तब रोड्स फील्डिंग करने मैदान पर उतरे। आते ही रोड्स ने अपनी करिश्माई फील्डिंग से एक के बाद एक दिग्ग्ज वेस्ट इंडियन क्रिकेटर्स को पवेलिन लौटा दिया। उस मैच में 5 शानदार कैच लेने के कारण अफ्रीकी टीम 41 रन से मैच जीत गई थी और रोड्स मैन ऑफ द मैच बने थे।

पहले भी लिए थे 7 कैच
इससे पहले फर्स्ट क्लास क्रिकेट में भी 7 कैच लेकर रोड्स मैन ऑफ द मैच बने थे, जबकि वो प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं थे।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???