Patrika Hindi News

> > > Maxwell was not entitled to be in the team: Coach

टीम में आने के हकदार नहीं थे मैक्सवेल: कोच

Updated: IST darren lehmann
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आखिरी एडिलेड टेस्ट में मैक्सवेल को बाहर रखा गया था जबकि तीन नए खिलाडिय़ों को ऑस्ट्रेलियाई टीम में जगह दी गई थी जिससे नाराज ऑलराउंडर ने कहा था कि वह इस बात से दुखी हैं। इसके बाद मैक्सवेल ने फरवरी में भारत दौरे पर टेस्ट टीम में शामिल किए जाने की उम्मीद जताई थी।

सिडनी। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के मुख्य कोच डैरेन लेहमैन ने भारत दौरे में टीम में शामिल किए जाने की उम्मीद जता रहे ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल के सपनों पर पानी फेरते हुए कहा है कि वह गत माह दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ राष्ट्रीय टेस्ट टीम में जगह पाने के हकदार नहीं थे। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आखिरी एडिलेड टेस्ट में मैक्सवेल को बाहर रखा गया था जबकि तीन नए खिलाडिय़ों को ऑस्ट्रेलियाई टीम में जगह दी गई थी जिससे नाराज ऑलराउंडर ने कहा था कि वह इस बात से दुखी हैं। इस बीच कोच लेहमैन ने कहा है कि मैक्सवेल इस टेस्ट में आने के हकदार ही नहीं थे क्योंकि उन्होंने इसके लिए बल्ले से प्रभावशाली प्रदर्शन नहीं किया था।

मैक्सवेल ने एडिलेड टेस्ट से बाहर रखे जाने के बाद फरवरी में भारत दौरे पर टेस्ट टीम में शामिल किए जाने की उम्मीद जताई थी। ऐसे में उनकी लेहमैन के इस बयान से टेस्ट टीम में जगह पाने की उनकी उम्मीदों को कुछ झटका भी मिला है। वहीं न्यूजीलैंड सीरीज के लिए वनडे टीम में शामिल किए गए मैक्सवेल कप्तान मैथ्यू वेड की आलोचना के बाद भी चर्चा में हैं। मैक्सवेल ने कहा है कि शैफील्ड शील्ड मैचों में विक्टोरिया टीम में भी उनके कप्तान वेड खुद को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर रखते हैं जिससे उनका प्रदर्शन प्रभावित हो रहा है। कोच लेहमैन ने मैक्सवेल और वेड के बीच इस विवाद को लेकर कहा है कि ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर को फिलहाल ज्यादा रन बनाने पर ध्यान देना चाहिए कोच ने इस बात पर भी निराशा जताई कि मैक्सवेल ने वेड के बाद बल्लेबाजी करने की बात को सार्वजनिक रूप से इस तरह पेश किया है। हालांकि उन्होंने उम्मीद जताई कि टीम इस विवाद को जल्द ही सुलझा लेगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???