Patrika Hindi News

> > > Pink ball is not the way to save Test cricket: Sachin Tendulkar

सचिन टेस्ट क्रिकेट में पिंक बॉल के इस्तेमाल के पक्ष में नहीं

Updated: IST Sachin Tendulkar
क्रिकेट के भगवान यानि सचिन तेंदुलकर जैसे दिग्गज खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट में पिंक बॉल के इस्तेमाल के समर्थन में नहीं है

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट बोर्ड टेस्ट क्रिकेट को रोमांचक बनाने के लिए कुछ प्रयोग कर रहा है। हाल ही में हमने डे नाइट दलीप ट्रॉफी के मैच देखे, जिसमें की पिंक बॉल का इस्तेमाल किया गया था। लेकिन भारत के कुछ पूर्व क्रिकेटर खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट में पिंक बॉल के इस्तेमाल से सहमत होते नजर नहीं आ रहे हैं।

क्रिकेट के भगवान यानि सचिन तेंदुलकर जैसे दिग्गज खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट में पिंक बॉल के इस्तेमाल के समर्थन में नहीं है। सचिन ने 500वें टेस्ट की पूर्व संध्या पर बीसीसीआई के एक कार्यक्रम में शिरकत करते हुए कहा, मैं व्यक्तिगत तौर पर टेस्ट में पिंक बाल के इस्तेमाल के पक्ष में नहीं हूं। पूर्व कप्तान ने कहा, मेरे हिसाब से इसके लिए हमें बहुत सारे अजस्टमेंट करने पडेंगे जो कि अच्छा विचार नहीं है। गौर सचिन इस कार्यक्रम में भारत के पूर्व कप्तानों के पैनल में शामिल थे, जिसमें उनके अलावा कपिल देव, दिलीप वेंगसरकर, श्रीकांत, रवि शास्त्री, सौरभ गांगुली समेत कई दिग्गज कप्तान शामिल थे।

सचिन ने कार्यक्रम के दौरान कहा, मुझे नहीं पता कि शाम की ओस में पिंक बॉल कैसा व्यवहार करेगी। दुनियाभर के अलग-अलग हिस्सों में स्थित पिचों का व्यवहार अलग-अलग है। उदाहरण के लिए सूरज ढलने के बाद डर्बन की पिच का व्यवहार बिल्कुल अलग होता है। सचिन ने कहा कि बेहतर तरीका यह है कि हम विकेट अच्छा बनाएं, जो गेंदबाजों की भी मदद करे। टीम इंडिया के पूर्व निदेशक रवि शास्त्री ने भी सचिन के विचारों पर सहमति जताई। शास्त्री ने कहा कि मैं हर उस बात से सहमत हूं जो सचिन ने कही। ओस एक मेजर फैक्टर हो सकती है। बैटिंग और बोलिंग के बीच बेहतर संतुलन ही अच्छा तरीका है।

दिलीप वेंगसरकर का विचार भी कुछ इसके आस-पास ही नजर आए। वेंगसरकर ने कहा कि अगर हम बेहतर विकेट बनाकर देते हैं तो टेस्ट मैच भी मजेदार हो सकते हैं, इन्हें देखने भी भीड़ जुट सकती है। उन्होंने कहा कि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट क्रिकेट देखने के लिए अभी भी हाउस फुल रहता है। आपको बस अच्छे विकेट तैयार करने की जरूरत है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे