Patrika Hindi News

रणजी ट्रॉफी : पहले खिताब के करीब गुजरात, ड्रॉ किया तो भी बनेगा चैंपियन

Updated: IST parthiv
टूर्नामेंट के फाइनल मुकाबले में मुंबई ने गुजरात की टीम को जीत के लिए 312 रन का टारगेट दिया है। जवाब में गुजरात ने लंच तक तीन विकेट खोकर 144 रन बना लिए हैं। कप्तान पार्थिव पटेल (53) और मनप्रीत जुनेजा (27) खेल रहे हैं।

इंदौर। रणजी ट्रॉफी के इतिहास में गुजरात की टीम अपने पहले खिताब से 166 रन दूर है। गुजरात की टीम अगर ये मैच ड्रॉ कराने भी कामयाब हो जाती है तो पहली पारी की बढ़त के आधार पर वह खिताब अपने नाम कर लेगी।

पार्थिव पटेल की कप्तानी में खेल रही गुजरात की टीम के लिए रणजी का यह सीजन बहुत ही शानदार रहा। 66 साल बाद यह पहला मौका है जब गुजरात की टीम फाइनल में पहुंची है।

टूर्नामेंट के फाइनल मुकाबले में मुंबई ने गुजरात की टीम को जीत के लिए 312 रन का टारगेट दिया है। जवाब में गुजरात ने लंच तक तीन विकेट खोकर 144 रन बना लिए हैं। कप्तान पार्थिव पटेल (53) और मनप्रीत जुनेजा (27) खेल रहे हैं।

टूर्नामेंट के पांचवें और अंतिम दिन दूसरी पारी में गुजरात की शुरुआत बेहद खराब रही। टीम ने अपना पहला विकेट कल के स्कोर 47 रन पर ही खो दिया।प्रियंक पांचाल 34 रन बनाकर आउट हो गए। इसके चार रन बाद ही बीएच मेराई महज दो रन के निजी स्कोर पर चलते बने। टीम को तीसरा झटका 89 रन के स्कोर पर लगा। जब समित गोहिल 21 रन बनाकर आउट हो गए।

इससे पहले मुंबई ने दूसरी पारी में 411 रन बनाकर गुजरात को 312 रनों की चुनौती दी है। मुंबई के लिए दूसरी पारी में कप्तान आदित्य तारे ने 69 और अभिषेक नायर ने 91 रन बनाए। गुजरात के चिंतन गाजा ने 6 विकेट चटकाए।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???