Patrika Hindi News

बिहार में शराबबंदीः शराब पीने के पहले दो दोषी सगे भाइयों को 5-5 साल की जेल

Updated: IST Jahanabad Court
बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी लागू कर रखी है। इस कानून के तहत प्रदेश में दो सगे भाइयों को शराब पीने का दोषी पाया गया है। माना जा रहा है कि शराबबंदी कानून के तहत ये पहले दो दोषी हैं।

जहानाबाद। बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी लागू कर रखी है। इस कानून के तहत प्रदेश में दो सगे भाइयों को शराब पीने का दोषी पाया गया है। माना जा रहा है कि शराबबंदी कानून के तहत ये पहले दो दोषी हैं। जहानाबाद के अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश-द्वितीय त्रिलोकीनाथ त्रिपाठी ने बिहार प्रोहिबिशन एंड एक्साइज एक्ट की धारा 37 (बी) के तहत दोनों भाइयों को सजा सुनाई है। शहरी क्षेत्र के पूर्वी उंटा मुहल्ला के निवासी दो सगे भाइयों पेंटर मांझी (36) व मस्तान मांझी (39) को शराब पीने का दोषी पाते हुए अदालत ने पांच वर्ष सश्रम करावास व एक-एक लाख रुपए अर्थदंड की सजा सुनाई गई। अर्थदंड की राशि नहीं देने पर अभियुक्तों को एक वर्ष अतिरिक्त कारावास में रहना होगा।

ये कैसा कानून है कि शरीर का दर्द दूर करने के लिए दो घूंट पिए तो पांच साल जेल
मस्तान की पत्नी सियामनि देवी और पेंटर की पत्नी क्रांति देवी हैं। दोनों पर अपने 8-14 साल के तीन-तीन बच्चों को पांच साल तक अकेले पालने की जिम्मेदारी उठानी पड़ेगी। दोनों के बच्चे मध्यान्ह भोजन के लिए कभी-कभार ही स्कूल पढ़ने जाते हैं। क्रांति ने रो रही अपनी 11 वर्षीय बेटी नीतू को सांत्वना देते हुए कहा कि, 'ये कानून गरीबों और महादलितों को मारने के लिए बनाई गई है। अमीर तो बड़ा वकील कर बच जाएगा, मारा तो हमेशा गरीब ही जाता है? दो ठेला चलानेवालों को सजा दिलवाकर मुख्यमंत्री को क्या मिला? ये कैसा कानून कि शरीर का दर्द दूर करने के लिए दो घूंट पिए तो पांच साल जेल।'

दो अलग-अलग मुकदमे दर्ज थे
इस संबंध में उत्पाद अधिनियम के विशेष लोक अभियोजन संजय कुमार ने बताया कि इन दोनों अभियुक्त सगे भाइयों के विरुद्ध उत्पाद आरक्षी निरीक्षक राजीव रंजन ने दो अलग-अलग मुकदमा जहानाबाद उत्पाद कांड संख्या 654/2017 व 655/2017 दर्ज कराया था। प्राथमिकी में सूचक का कहना था कि 29 मई 2017 को पूर्वी उंटा माले ऑफिस के पास शराब पीकर नशे की हालत में पेंटर मांझी व मस्तान मांझी को गुप्त सूचना के आधार पर गिरफ्तार किया गया था।

शरीर में पाई गई अल्कोहल की मात्रा
जांच करने पर दोनों के शरीर में अल्कोहल की मात्रा पाई गई थी। विशेष सरकारी वकील ने बताया कि संभवत: बिहार राज्य में नया उत्पाद कानून आने के बाद यह पहला फैसला आया है, जिसमें अभियुक्त को दोषी पाया गया है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???