Patrika Hindi News

BJP का नेता चला रहा था सेक्स रैकेट, पर्दाफाश होने पर पार्टी ने निकाला

Updated: IST Neeraj Shakya
नैतिकता की बात करने वाली भाजपा का एक नेता सेक्स रैकेट में लिप्त पाया गया है। सेक्स रैकेट के सदस्य के रूप में काम कर रहे इस नेता का नाम नीरज शाक्य है। शाक्य भाजपा की मध्यप्रदेश इकाई के अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश मीडिया प्रभारी थे।

भोपाल. नैतिकता की बात करने वाली भाजपा का एक नेता सेक्स रैकेट में लिप्त पाया गया है। सेक्स रैकेट के सदस्य के रूप में काम कर रहे इस नेता का नाम नीरज शाक्य है। शाक्य भाजपा की मध्यप्रदेश इकाई के अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश मीडिया प्रभारी थे। शाक्य का राजफाश होने के बाद शुक्रवार को भाजपा ने पार्टी से निष्कासित कर दिया। प्रदेश भाजपा के सूत्रों के अनुसार प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने शाक्य के अनैतिक कार्य में लिप्त होने की जानकारी मिलने पर यह कार्रवाई की है। हाल में 15 मई को ही अनुसूचित जाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष सूरज कैरो ने प्रदेश पदाधिकारियों के नाम की घोषणा की थी। इसमें शाक्य को मीडिया प्रभारी बनाया गया था।

नौकरी का झांसा देकर उतार देता था देह व्यापार में
भोपाल पुलिस की साइबर अपराध शाखा ने शुक्रवार को ही देह व्यापार गिरोह का पर्दाफाश किया । बताया जाता है कि इस गिरोह में नीरज भी शामिल था। दरअसल, मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल पुलिस की साइबर अपराध शाखा ने लड़कियों को नौकरी का झांसा देकर उन्हें देह व्यापार में उतारने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश करते हुए नौ लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। राजधानी भोपाल की पॉश अरेरा कॉलोनी में चल रहे इस गिरोह ने महाराष्ट्र और मेघालय तक से लड़कियों को बुलाकर उन्हें देह व्यापार में उतारा था।

अश्लील वेबसाइट से करता था लड़कियों की बुकिंग
आरोपी एक अश्लील वेबसाइट के माध्यम से लड़कियों की बुकिंग का काम करते थे। पुलिस ने चार लड़कियों को देहव्यापार में जाने से बचाने का भी दावा किया है। साइबर अपराध पुलिस की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक गिरोह अश्लील वेबसाइट बनाकर लड़कियां उपलब्ध कराने के लिए बुकिंग करते थे।

पुलिस ने जाल बिछाकर आरोपियों को दबोचा
पुलिस को मिली शिकायत के बाद आरोपियों का पता चलने पर स्थानीय ई-7 अरेरा कॉलोनी स्थित एक फ्लैट पर छापा मारकर नौ लोगों को दबोच लिया गया। आरोपियों की पहचान दिनेश मेवाडा, सुरेश गेहलोत, रवि प्रजापति, मनोज गुप्ता, हरजीत धनवानी, कृष्ण कुमार जायसवाल, सुरेश बेलानी, मिसवाउद्दीन और नीरज शाक्य के रूप में हुई है। एक आरोपी सुभाष उर्फ वीर द्विवेदी फरार है।

ऐसे फंसाता था लड़कियों को अपने जाल में
भोपाल में कई होटलों में प्रबंधक का काम कर चुका सतना निवासी वीर विभिन्न वेबसाइटों पर ऐसी लड़कियों की तलाश करता था, जो नौकरी के लिए अपने बायोडाटा साइटों पर देती थी। इसके बाद वह ऐसी लड़कियों को होटल के रिसेप्शन, कॉल सेन्टर या ब्यूटीपार्लर में अच्छी नौकरी का झांसा देकर बुलाता था। लड़कियों के आने पर उन्हें फ्लैट में रखा जाता था। उसके बाद ग्राहकों का कंपनी के रिसेप्शन मैनेजर के नाम से लड़कियों से परिचय कराया जाता और यह आश्वासन दिया जाता था, कि यह मैनेजर उन्हें अच्छी तन्ख्वाह वाली नौकरी दिला देंगे।

एक BJP नेता ISI से संबंध रखने के आरोप में भी हो चुका है गिरफ्तार
प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा से जुड़ा यह दूसरा मामला है, जब उसके किसी पदाधिकारी को अनैतिक कार्य में लिप्त होने पर पार्टी से बाहर किया गया है। इससे पहले भाजपा आईटी सेल के पदाधिकारी ध्रुव सक्सेना को फर्जी टेलीफोन एक्सचेंज के माध्यम से पाकिस्तान के आईएसआई एजेंटों की मदद के मामले में लिप्त होने पर पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उसे भी पार्टी से बर्खास्त किया गया था।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???