Patrika Hindi News

व्यापम घोटाला : मप्र के राज्यपाल पर एफआईआर दर्ज

Updated: IST
व्यापम घोटाले से जुडे मामले मेंराज्यपाल रामनरेश यादव समेत 101 नामजद आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

भोपाल। मध्यप्रदेश के बहुचर्चित व्यापम घोटाले से जुडे वन रक्षक भर्ती फर्जीवाडे में मंगलवार को राज्य पुलिस के विशेष कार्य बल "एसटीएफ" ने बड़ी कार्रवाई करते हुए राज्यपाल रामनरेश यादव समेत 101 नामजद आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली। एसटीएफ सूत्रों के अनुसार प्राथमिकी में 87 अभ्यर्थी समेत 101 नामजद आरोपियों के अलावा अन्य को भी आरोपी बनाया गया है। वर्ष 2013 में हुई वन रक्षक परीक्षा में हुए फर्जीवाड़े को लेकर यह प्राथमिकी दर्ज की गई है।

बताया गया है कि पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा उनके सहयोगी सुधीर शर्मा और व्यापम के तत्कालीन अधिकारी नितिन महिंद्रा और पंकज त्रिवेदी को भी इस मामले में आरोपी बनाया गया है। आरोपियों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अलावा फर्जीवाड़े और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के तहत भी मामले दर्ज किए गए हैं। इस मामले को लेकर दिन भर चले नाटकीय घटनाक्रम के बीच शाम को एसटीएफ ने प्राथमिकी दर्ज होने की पुष्टि की।

हालाकि इस मसले पर एसटीएफ के सभी अधिकारी चुप्पी साधे हुए हैं। शाम को एसटीएफ की ओर से जारी विज्ञप्ति में 101 नामजद और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होने की जानकारी देते हुए कहा गया है कि इस प्रकरण में आरोपियों ने अभ्यर्थियों को व्यापम के अधिकारियों और कर्मचारियों के साथ मिलकर उनकी ओएमआर शीट में गोले भरकर पास कराया।

बताया गया है कि राज्यपाल ने इस परीक्षा में लगभग तीन अभ्यर्थियों के नामों की सिफारिश की थी। ये आरोपी उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ जिले के निवासी बताए गए हैं। यही राज्यपाल के खिलाफ कार्रवाई का आधार बना। राज्यपाल रामनरेश यादव आजमगढ़ जिले के ही निवासी हैं और वह उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???