Patrika Hindi News

बीएसएफ ने 7 लाख रुपए मूल्य के नकली नोट जब्त किए

Updated: IST Fake Notes
दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के बीएसएफ ने इस वर्ष अबतक 21.98 लाख रुपए मूल्य के नकली नोट जब्त किए हैं

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने सात लाख रुपए मूल्य के नकली नोट जब्त किए हैं। अधिकारियों ने रविवार को यह जानकारी दी। बीएसएफ के दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के उप महानिरीक्षक आर.पी.एस. जसवाल ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि खुफिया जानकारी पर कार्रवाई करते हुए बीएसएफ जवानों ने शनिवार रात चुरियंतपुर में भारत-बांग्लादेश सीमा पर बाड़ गेट के पास छापेमारी की और वहां से 2,000 रुपए के 350 नकली नोट जब्त किए।

उन्होंने कहा, जवानों ने नकली भारतीय मुद्रा को लेने के लिए भारत की तरफ मौजूद आरोपियों को ललकारा, लेकिन वे भागने में कामयाब रहे। दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के बीएसएफ ने इस वर्ष अबतक 21.98 लाख रुपए मूल्य के नकली नोट जब्त किए हैं और दो तस्करों को गिरफ्तार किए हैं।

सावधान! आ गए 2 हजार के नकली नोट, झारखंड के इस जिले से हो रही Supply

रामानुजनगर. यदि आपको कोई 2 हजार का नोट दे तो जरा उसे परख लें। यह नकली हो सकता है। बाजार में 2 हजार के नोट खपाने वाला गिरोह काम कर रहा है। इन नोटों की सप्लाई झारखंड के गढ़वा से हो रही है। पिछले दिनों सूरजपुर जिले के रामानुजनगर थानांतर्गत ग्राम पतरापाली में किराना व्यवसायी को 2 हजार के नकली नोट देने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। आरोपी के पास से पुलिस ने 2 हजार के 11 नकली नोट बरामद किए हैं जिन्हें वो खपाने की फिराक में था।

गौरतलब है कि 2 मार्च की शाम ग्राम पतरापाली में किराना व्यवसायी सौभाग्य दुबे की दुकान में बिजली गुल रहने से अंधेरे का फायदा उठाकर अज्ञात युवक 2 हजार का नकली नोट खपाने में सफल हो गया था। किराना व्यवसायी की शिकायत पर पुलिस मामले की जांच में जुट गई।

पुलिस ने संदेह के आधार पर ग्राम नारायणपुर निवासी 22 वर्षीय प्रियेश साहू पिता भुनेश्वर साहू को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने किराना दुकान में नकली नोट खपाने की बात स्वीकारी। फिर पुलिस ने उसकी निशानदेही पर प्रिंट किए हुए 2 हजार के 11 नकली नोट बरामद किए। आरोपी ने उसे गिरफ्तार कर उसके खिलाफ धारा 489 ख व 489 ग के तहत कार्रवाई की।

आरोपी ने पुलिस को बताया कि गढ़वा से अज्ञात व्यक्ति ने नारायणपुर निवासी मुकेश साहू को 2 हजार के नकली नोट दिए थे। मुकेश ने उसे 18 नोट दिए थे जिसमें से 7 को उसने पतरापाली, देवगढ़ व बिश्रामपुर के दुकान व बाजारों में खपा दिए थे। शेष नोट भी खपाने की फिराक में था।

पुलिस ने आरोपी को न्यायालय में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। कार्रवाई में टीआई रामेंद्र सिंह, एसआई चित्ररेखा साहू, एएसआई विराट बीशी, प्रधान आरक्षक हेमंत सोनवानी, आरक्षक देवदत्त दुबे, शिवशंकर सिंह, रावेंद्र पाल, सैनिक देवचंद्र पांडेय व रजनीश पटेल सक्रिय रहे।

मुकेश पहले से ही जेल में बंद

पुलिस ने बताया कि मुकेश साहू को जयनगर पुलिस ने अजिरमा बाजार में नकली नोट खपाते हुए गिरफ्तार किया था। वो अभी सूरजपुर जेल में बंद है।

अंतरराज्यीय गिरोह सक्रिय

थाना प्रभारी रामेंद्र सिंह ने बताया कि 2 हजार के नकली नोट झारखंड के गढ़वा से किसी अनजान व्यक्ति द्वारा मुकेश साहू को दिए गए थे। मामला गंभीर होने की वजह से इसकी विवेचना स्पेशल पुलिस टीम द्वारा की जा रही है। आरोपी प्रियेश साहू के पास से मिले नकली नोट में से कई के सीरियल नंबर एक ही हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???