Patrika Hindi News

ट्रायबल एरिया में दिन में धड़ल्ले से चल रहा ये गंदा काम, अफसर फिर भी मौन

Updated: IST Black marketing of kerosene
ट्रायबल एरिया नगरी में जमकर केरोसिन की कालाबाजारी हो रही है। यहां के अधिकांश पीडीएस योजना के हितग्राही गैस सिलेंडर मिलने के बाद अपने कोटे के केरोसिन को दूसरों को बेच रहे हैं।

धमतरी. ट्रायबल एरिया नगरी में जमकर केरोसिन की कालाबाजारी हो रही है। यहां के अधिकांश पीडीएस योजना के हितग्राही गैस सिलेंडर मिलने के बाद अपने कोटे के केरोसिन को दूसरों को बेच रहे हैं। इसका ज्यादातर उपयोग होटलों एवं ढाबों में हो रहा है। कालाबाजारी रोकने खाद्य विभाग भी कुछ नहीं कर रहा है।

Read More : यहां शौचायल बनाने के नाम पर चल रहा था गंदा काम, खुला राज तो मचा बवाल

उल्लेखनीय है कि जिले में पीडीएस योजना के तहत 1 लाख 66 हजार 602 हितग्राही हैं। शासन ने रसोई को धुआं मुक्त करने के लिए प्रधानमंत्री उज्जवला योजना शुरू किया है। इसके तहत महिलाओं को 2 सौ रुपए में गैस चूल्हा और सिलेंडर दिया जाता है। पीडीएस योजना के तहत हितग्राहियों का आधार लिंक किया गया है। इसके तहत उज्जवला योजना के हितग्राहियों को केरोसीन देना बंद कर दिया गया है।

Read More : अब खुद आप बना सकते है अपने ्रञ्जरू का पासवर्ड, नहीं रहेगा फ्रॉड का खतरा

अब तक करीब 50 हजार हितग्राहियों के कोटे में केरोसिन आना बंद हो गया है। पहले जिले में हर महीने 360 किलो लीटर केरोसीन की आपूर्ति होती थी, जो अब घटकर 165 किलो लीटर हो गई है। विडंबना यह है कि शासन ने केरोसिन के मामले में ट्रायबल एरिया के हितग्राहियों को केरोसीन के मामले में छूट दे रखी है। अभी भी उन्हें हर महीने 3 लीटर केरोसीन दिया जा रहा है।

Read More : मासूम ने कहा-'कलक्टर साहब मेरे घर में टॉयलेट बनवा दें

नहीं कर रहे हैं उपयोग

खाद्य विभाग के सूत्रों की माने तो गैस सिलेंडर मिलने के बाद नगरी क्षेत्र के अधिकांश हितग्राही केरोसीन का उपयोग करना बंद कर दिए हैं। अब वे गैस सिलेंडर से खाना बना रहे हैं। इसलिए यहां केरोसिन की कालाबाजारी बढ़ गई है। दलाल ग्रामीण क्षेत्रों में घूम-घूमकर केरोसीन को एकत्रित करते हैं और इसे अधिक कीमत में होटलों और ढाबों में बेच देते हैं। इस तरह की लगातार शिकायत भी मिल रही है, लेकिन खाद्य विभाग कुछ नहीं कर पा रहा।

सहायक खाद्य अधिकारी व्हीएस ठाकुर ने कहा कि गैस सिलेंडर उपभोक्ताओं को अब केरोसीन का लाभ नहीं दिया जा रहा है। ट्रायबल एरिया के उपभोक्ता ही इससे लाभान्वित हो रहे हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???