Patrika Hindi News

> > > > Dhamtari: 22 thousand People Ineligible in PM Housing list

पीएम आवास योजना के लिए आवेदन 43, 22 हजार लोगों को किया अपात्र

Updated: IST PM Housing scheme
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 43 हजार लोगों ने आवेदन दिया, इसमें से सिर्फ 21 हजार लोग ही पात्र पाए गए। शेष 22 हजार अपात्र लोगों का आवेदन निरस्त कर दिया गया

धमतरी. प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 43 हजार लोगों ने आवेदन दिया, इसमें से सिर्फ 21 हजार लोग ही पात्र पाए गए। शेष 22 हजार अपात्र लोगों का आवेदन निरस्त कर दिया गया। इनमें से करीब 570 लोगों ने दावा-आपत्ति पेश की है। बताया गया है कि नियमों की जटिलता के चलते कई गरीब शासन की इस योजना के लाभ से वंचित हो रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि गरीब परिवार के लोगों को सिर छुपाने के लिए इंदिरा आवास योजना शुरू की गई थी। इसके अंतर्गत केवल उन्ही परिवार को इसका लाभ दिया जा रहा था, जिसका नाम सन् 2002 की गरीबे रेखा की सूची में था। इस सूची के चलते कई गरीब परिवार को आवास नहीं मिल पाया। उन्हें इसके लिए जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों का भी चक्कर लगाना पड़ा, लेकिन कहीं उनकी सुनवाई नहीं हुई है। फलस्वरूप पिछले 6 सालों में करीब 10 हजार 6 सौ को ही इंदिरा आवास का लाभ मिल पाया, जिसमें सन् 2010-11 में 811 सामान्य, 2011-12 में 792 सामान्य, 156 बाढ़ पीडि़त, 584 वन अधिकार पट्टाधारी, 2012-13 में 913 सामान्य, 2013-14 में 21 सौ 63 सामान्य, 2 हजार 795 वन अधिकार पट्टाधारी, 27 बाढ़ पीडि़त, 2014-15 में 1228 सामान्य, 2015-16 में 1130 परिवार शामिल है।

नहीं मिलेगा फायदा
प्रधानमंत्री आवास योजना शुरू होने से कई गरीब परिवार उम्मीद कर रहे थे कि इंदिरा आवास के लिए सालों तक चक्कर काटने के बाद अब इस योजना के तहत आवास मिला जाएगा, लेकिन ऐसा होता नहीं दिख रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना में भी काफी जटिलता है। इसके अंतर्गत बेघर, पिछड़ी जनजाति कमार, भुजिया, मैला ढोने वाला, बंधुवा मजदूर, एक कमरे वाले, बिना कमरे वाले परिवार को ही पात्रता का श्रेणी में रखा गया है।

मिलेगा 1 लाख 20 हजार
इंदिरा आवास की तुलना में प्रधानमंत्री आवास योजना में हितग्राहियों को अधिक राशि मिलेगी। इंदिरा आवास में 70 हजार रुपए कर दिया जाता था, जबकि प्रधानमंत्री आवास में 1 लाख 20 हजार रुपए दिया जाएगा। इसके अलावा शौचालय बनाने के लिए 12 हजार और स्वयं काम करने पर 90 दिन का मनरेगा मजदूरी भी मिलेगी।

43 हजार हुए थे चिन्हांकित
प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ग्राम पंचायतों में आयोजित ग्राम सभा में 43 हजार परिवार को चिन्हांकित किया गया था। जांच-पड़ताल के बाद 21 हजार परिवार इसके योग्य पाए गए। 570 परिवार ने दावा किया था। और तो और कई लोंगों ने पात्रता को लेकर कलक्ट्रेट में शिकायत भी किए। अधिकारियों ने जब इनके घरों में जाकर निरीक्षण किया, जिसमें 250 परिवार पात्र मिले। इनके पास एक से ज्यादा कमरे नहीं थे।

प्रक्रिया चल रही
परियोजना अधिकारी हेमंत ठाकुर ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ पात्रता रखने वाले हितग्राहियों को मिलेगा। चयन प्रक्रिया चल रही है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे