Patrika Hindi News

> > > > Dhamtari: Ex army officers submitted memorandum to go over the border

फिर से वर्दी पहनकर देश की सुरक्षा के लिए जाने पूर्व सैनिकों ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

Updated: IST submitted memorandum to go over the border
री सेक्टर पर हुए आतंकी हमले ने पूर्व सैनिकों को भी झकझोर करके रख दिया गया है। उनका कहना है कि यदि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पाकिस्तान के खिलाफ जंग का ऐलान करते हैं

धमतरी. उरी सेक्टर पर हुए आतंकी हमले ने पूर्व सैनिकों को भी झकझोर करके रख दिया गया है। उनका कहना है कि यदि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पाकिस्तान के खिलाफ जंग का ऐलान करते हैं, तो वे भी अपने तन में फिर से वर्दी सजाकर मोर्चा संभालने के लिए तैयार हैं।

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों पाकिस्तानी आतंकवादियों के हमले से कश्मीर घाटी फिर से लहुलुहान हो गई थी। आतंकियों के घात लगाकर किए गए हमले से सेना के 18 जवान शहीद हो गए और कई घायल। इस घटना की पूरी देश में व्यापक प्रतिक्रिया हुई है। आम भारतीय चाहता है कि पाकिस्तान की इस कायराना हरकत का, उसे सबक सिखाया जाए। प्रधानमंत्री पर सैन्य कार्रवाई करने के लिए चौतरफा दबाव भी है। ऐसे में स्वाभाविक है कि भूतपूर्व सैनिकों का भी अपने जवानों की लाशों को ताबूत में देखकर खून खौल रहा है।

अखिल भारतीय पूर्व सैनिक सेवा परिषद से संबंद्ध छत्तीसगढ़ पूर्व सैनिक सेवा परिषद की जिला यूनिट ने कलक्टर डा. सीआर प्रसन्ना के माध्यम से प्रधानमंत्री के नाम भेजे ज्ञापन में इस घटना पर आक्रोश जताते हुए कहा कि पाकिस्तान लगातार भारत में आतंकवाद को बढ़ावा दे रहा है। मुंबई हमले से लेकर उरी सैन्य शिविर में हमला कर वह भारत की अस्मिता को लगातार चुनौती दे रहा है। देश के करोड़ों लोगों की तरह उनकी भावना भी इससे मर्माहत हुई है। उनका आगे कहना है कि देश प्रधानमंत्री से उम्मीद करता है कि जिन 18 जवानों की हत्या की गई है, उनके खून के साथ इंसाफ किया जाए। पाकिस्तान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई का ऐलान करने की मांग करते हुए संगठन के अध्यक्ष केपी साहू का कहना है कि उनमें आज भी जोश कायम है। राष्ट्रभक्ति की भावना कूट-कूटकर भरी हुई है। अवसर मिलने पर वे सीमा में जाकर दुश्मनों के छक्के छुड़ाने के लिए तैयार है।

कड़ा सबक सिखाएं
संगठन के पवन कुमार निषाद, जितेंद्र कुमार मगेंद्र, मुरारी लाल साहू, चन्द्रशेखर देवांगन और अर्जुन सिंह नेताम का कहना था कि देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने वालों को कड़ा सबक सिखाना चाहिए। इस मामले में किसी तरह की राजनीति नहीं होना चाहिए। पूरा देश आतंकवाद की भत्र्सना करता है और इसके खिलाफ लड़ाई में हम सब एकजुट है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे