Patrika Hindi News

सूर्य के इस उपाय से होता है तुरंत प्रमोशन, मिलता है राजपाट

Updated: IST
सूर्य की ही शक्ति से सभी ग्रह चलायमान होकर व्यक्ति के भाग्य की रूपरेखा रचते हैं

ज्योतिष में सूर्य को सभी ग्रहों का अधिपति माना जाता है। सूर्य की ही शक्ति से सभी ग्रह चलायमान होकर व्यक्ति के भाग्य की रूपरेखा रचते हैं। ऎसे में सूर्यदेव की आराधना करने से कुंडली में विद्यमान ग्रहों का नकारात्मक असर खत्म होकर सफलता के द्वार खुल जाते हैं।

रविवार को फलदायी है सूर्य की आराधना

हिंदू धर्म के अनुसार रविवार सूर्य का वार है। इस दिन भगवान सूर्य की आराधना-अर्चना से विशेष फल की प्राप्ति होती है। इस दिन सूर्य के निमित्त दान-पुण्य करने से बड़े से बड़ा अशुभ भी टल जाता है।

सूर्य आराधना से बनता है राजयोग

यदि किसी की कुंडली में गरीबी, निर्धनता और शत्रुओं से बार-बार हारना लिखा हो तो उसे सूर्य की आराधना करनी चाहिए। रविवार को सूर्य की विशेष आराधना करने से व्यç क्त के भाग्य में राजयोग का निर्माण होता है। यदि कोई व्यक्ति कारागार में हों या उस पर आपराधिक केस चल रहा हो तो भी सूर्य के मंत्र जाप से वह तुरंत कारागार से छूट जाता है।

कैसे करें रविवार को सूर्य की आराधना

रविवार के दिन सुबह उठकर नहा-धोकर एक तांबे के लोटे से सूर्य देव को गायत्री मंत्र बोलते हुए जल चढ़ाएं। जल चढ़ाते समय लोटे से नीचे गिरते पानी से सूर्य के दर्शन करें। इसके बाद आदित्य ह्रदयस्त्रोत का पाठ करें। इसके बाद गायत्री मंत्र की एक माला जाप कर लें। इससे बुरे से बुरा समय भी टल जाता है। इस छोटे से उपाय से एक बार मृत्यु को भी हराया जा सकता है। यदि नौकरी में प्रमोशन नहीं हो रहा है, या कोई व्यक्ति बेहद बीमार हो तो उसे इस उपाय को अवश्य काम में लेना चाहिए।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???