Patrika Hindi News

> > > Salt importance as per vastu shastra

एक चुटकी नमक बना सकता है आपको करोड़पति-जानिए कैसे

Updated: IST use salt in vastu sastra
नमक मेंगजब की शक्ति होती है जो न सिर्फ आपके घर को सकारात्मक ऊर्जासे भर देती है बल्कि आपके घर में सुख समृद्धि भी बढ़ाने का काम करती है

नमक का इस्तेमाल जिस तरह से खाने को लजीज बना देता है उसी तरह नमक अपके जीवन को भी मजेदार बना सकता है ऐसा वास्तु विज्ञान का मत है। वास्तु विज्ञान के अनुसार नमक में गजब की शक्ति होती है जो न सिर्फ आपके घर को सकारात्मक ऊर्जा से भर देती है बल्कि आपके घर में सुख समृद्धि भी बढ़ाने का काम करती है। लेकिन इसके लिए सिर्फ खाने में नमक नहीं कई दूसरे कामों में भी नमक का प्रयोग करना होगा। नमक का इस्तेमाल जबसे खाने में होता है करीब-करीब उस समय से नमक को नकारात्मक उर्जा दूर करने वाला भी माना जाता रहा है। इसलिए नमक का इस्तेमाल नजर दोष उतारने के लिए भी किया जाता है। अगर आपको लगता है कि आपको या आपके परिवार के किसी सदस्य को नजर लगी है तो एक चुटकी नमक लेकर तीन बार उसके ऊपर से घुमाकर बाहर फेंक दें। कहते हैं इससे नजर दोष खत्म हो जाता है।

वास्तु विज्ञान के अनुसार शीशे के प्याले में नमक भरकर शौचालय और स्नान घर में रखना चाहिए इससे वास्तुदोष दूर होता है। इसका कारण यह है कि नमक और शीशा दोनों ही राहु की वस्तु हैं और राहु के नकारात्मक प्रभाव को दूर करने का काम करते हैं। राहु नकारात्मक ऊर्जा और कीट-कीटाणुओं का भी कारक माना गया है।

जिनसे घर में सुख समृद्धि और स्वास्थ्य प्रभावित होता है। शीशे के बर्तन में नमक भरकर घर के किसी कोने में रखने से घर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। राहु, केतु की दशा चल रही हो या जब मन में बुरे-बुरे विचार या डर पैदा हो रहे हों तब यह प्रयोग बहुत लाभ देता है। डली वाला नमक लाल रंग के कपड़े में बांधकर घर के मुख्य द्वार पर लटकाने से घर में किसी बुरी ताकत का प्रवेश नहीं होता है। कारोबर में उन्नति के लिए अपने व्यापारिक प्रतिष्ठान के मुख्य द्वार पर और तिजोरी के ऊपर लटकाना लाभप्रद माना गया है।

रात को सोते समय पानी में एक चुटकी नमक मिलकार हाथ पैर धोने से तनाव दूर होता है और नींद अच्छी आती है। राहु और केतु के अशुभ प्रभाव भी इससे दूर होते हैं। घर में सकारात्मक ऊर्जा की वृद्धि के लिए रॉक साल्ट लैंप रख सकते हैं। वास्तु विज्ञान के अनुसार यह पारिवारिक जीवन में आपसी तालमेल के साथ ही सुख समृद्धि को बढ़ाने में भी सहायक होता है।

स्वास्थ्य संबंधी मामलों में भी यह सकारात्मक प्रभाव डालता है। घर की खुशियां बच्चों से होती है। बच्चे बीमार हो जाएं तो पूरा घर परेशान हो जाता है। अपनी इस खुशी को हमेशा बनाए रखने के लिए हफ्ते में एक दिन पानी में चुटकी भर नमक मिलाकर बच्चों को नहलाएं तो नजर दोष से बच्चे बचे रहेंगे और स्वास्थ्य संबंधी परेशानी कम होगी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???