Patrika Hindi News

अपनी खाने की स्पीड पर करें कंट्रोल

Updated: IST eating food
हमारे दिमाग और पेट को यह समझने में 20 मिनट का समय लग जाता है कि अब भूख मिट चुकी है और नहीं खाना चाहिए।

जल्दी-जल्दी खाने की वजह से हम अपनी शारीरिक जरूरत से ज्यादा भोजन कर लेते हैं। हमारे दिमाग और पेट को यह समझने में 20 मिनट का समय लग जाता है कि अब भूख मिट चुकी है और नहीं खाना चाहिए। इससे अनजाने में वजन बढ़ जाता है, इसलिए खाने की स्पीड पर कंट्रोल करें।

नुकसान: जल्दी खाने वाले लोगों को अक्सर गैस, एसिडिटी और कब्ज की समस्या रहती है। चबाकर खाने के फायदे: धीरे-धीरे चबाकर खाने से जो लार हमारे मुंह में बनती है, वह खाने में घुलकर पाचन प्रक्रिया को और आसान बनाती है। इससे गैस या कब्ज की समस्या नहीं रहती।

ऐसे सुधारें आदत
डाइट में सलाद को शामिल करें क्योंकि इन्हें चबाए बिना निगला नहीं जा सकता।
डाइनिंग टेबल, स्कूल, कॉलेज या दफ्तर की कैंटीन में बैठकर ही खाना खाएं।
टीवी या लैपटॉप के सामने बैठकर ना खाएं। खाते समय बीच-बीच में एकाध घूंट पानी पीएं इससे आप धीरे-धीरे खाएंंगे और खाना अच्छी तरह पचेगा।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???