Patrika Hindi News

कब तक सर पर ढोते रहोगे शिबू सोरेन कोः रघुबर दास

Updated: IST Jharkhand news, Raghubar das, shibu soren, dumka c
सूबे के सीएम रघुवर दास ने संबोधित करते हुए झारखंड मुक्ति मोर्चा पार्टी के नेताओं को आड़े हाथों लिया है...

दुमका। सूबे के सीएम रघुवर दास ने संबोधित करते हुए झारखंड मुक्ति मोर्चा पार्टी के नेताओं को आड़े हाथों लिया है। सीएम ने पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ ही झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन पर भी निशाना साधा। सीएम दो दिवसीय संताल परगना दौरे पर पहुंचे थे। यहां शिकारीपाड़ा में भाजपा की ओर से आयोजित कार्यकर्ता मिलन समारोह में मुख्यमंत्री ने संबोधित किया।

उन्होंने कहा कि बाप-बेटे आदिवासियों का शोषण करते रहे, ठगते रहे। राजनीतिक स्वार्थ की पूर्ति करते रहे। सीएम ने यहां सांसद रिश्वत कांड की चर्चा करते हुए शिबू सोरेन पर तीन करोड़ में बिकने के आरोप की याद दिलाई। मुख्यमंत्री ने कहा कि आप लोग शिबू सोरेन को कब तक ढोते रहेंगे।

मुख्यमंत्री अब तक शिबू सोरेन पर सीधा वार करने से परहेज करते रहे हैं, पर बुधवार को पहली बार देखा गया गया कि शिबू सोरेन भी मुख्यमंत्री के निशाने पर रहे। रघुवर दास ने कहा कि जल, जंगल और जमीन के नाम पर राजनीति कर रहे शिबू सोरेन और हेमंत सोरेन के पास दुमका, रांची, बोकारो और जमशेदपुर में कितनी जमीन हैं, सब जानते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि बाप-बेटे के पास नोट छापने की मशीन है क्या।

हेमंत सोरेन को जमीन लुटेरा बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि झामुमो के लोग चुनाव के समय आदिवासियों को डराते हैं कि भाजपा आ गई तो आपकी जमीन बेच देगी पर हेमंत सोरेन ही जब सत्ता में आए तो बालू मुंबई वालों को बेच दिया था। हमारी सत्ता आई तो मुम्बई वालों को भगाया और बालू घाट ग्राम पंचायतों को दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि झामुमो के ये नेता आदिवासियों को केवल अपने वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल करते हैं। चुनाव के बाद भाग्य भरोसे छोड़ देते हैं। केवल अपनी समृद्धि बढ़ाते हैं।

रघुवर ने कहा कि भाजपा वोट बैंक की राजनीति नहीं करती, गरीब के विकास और बदलाव की हम राजनीति करते हैं। रघुवर ने सबका साथ सबका विकास के भाजपा के एजेंडे की चर्चा करते हुए मुस्लिम समाज के विकास की भी बात की।

कांग्रेस पर आरोप लगाया कि 70 साल से मुसलिमों को विकास से वंचित रखा, चुनाव के वक्त उन्हें डराते रहे कि भाजपा पाकिस्तान भेज देगी। रघुवर ने सवाल किया कि छह साल अटल जी की सरकार और तीन साल के मोदी सरकार के दौरान ऐसा कुछ हुआ क्या। मुख्यमंत्री ने कहा कि सच्चाई यह है कि आदिवासी की ही नहीं, किसी की भी जमीन कोई माई का लाल नहीं छीन सकता है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???