Patrika Hindi News

> > > > Bhilai:No-tension missions cashless cash, all stores will free swap machine

मिशन कैशलेस: नकदी का नो-टेंशन, सभी दुकानों में मुफ्त लगाएंगे स्वैप मशीन

Updated: IST No-tension missions cashless cash, all stores will
नगर निगम प्रशासन शहर के सभी मार्केट को कैशलेस बनाएगा। छोटे-बड़े सभी व्यापारियों को बैंकों के माध्यम से मुफ्त में प्वांइट ऑफ सेल (पीओएस-कार्ड स्वेप मशीन) उपलब्ध कराएगा।

भिलाई.नगर निगम प्रशासन शहर के सभी मार्केट को कैशलेस बनाएगा। छोटे-बड़े सभी व्यापारियों को बैंकों के माध्यम से मुफ्त में प्वांइट ऑफ सेल (पीओएस-कार्ड स्वेप मशीन) उपलब्ध कराएगा। निगम प्रशासन ने भारत सरकार के आदेश पर यह निर्णय लिया है। बुधवार को आयुक्त नरेन्द्र दुग्गा ने चेंबर ऑफ कॉमर्स और विभिन्न बैंकों के कर्मचारियों की बैठक ली। शहर के सभी दुकानों में 31 मार्च 2017 तक पीओएस मशीन लगाना अनिवार्य किया गया है।

मशीन उपलब्ध कराएगा

निगम बैंकों के माध्यम से व्यापारियों को मशीन उपलब्ध कराएगा। मशीन प्राप्त करने के लिए व्यापारियों को अपने नजदीक के बैंक जहां उनका खाता है, वहां आवेदन कर मशीन की मांग करना पड़ेगा। बैंक आवेदन करने वाले व्यापारियों को बिना किसी चार्ज के पीओएस मशीन उपलब्ध कराएगा। जिन व्यापारियों का बैंकों में खाता नहीं है, उन्हें बैंक में खाता खुलवाना पड़ेगा। निगम के सहायक राजस्व अधिकारी और स्वच्छता निरीक्षक शिविर लगाकर फार्म बांटेगे। वहीं बैंक के कर्मचारी दुकानदारों को स्वेप कार्ड मशीन लगाने और संचालन की प्रक्रिया की जानकारी देंगे।

पोर्टेबल मशीन दी जाएगी

गुरुवार को जवाहर मार्केट में शिविर लगाया जाएगा। चेंबर ऑफ कॉमर्स के सदस्यों को इलेक्ट्रानिक लेन- देन की जानकारी दी जाएगी। स्वेप मशीन के लिए फार्म वितरण किया जाएगा। एसबीआई के मैनेजर बीएम सरकार ने बताया कि पीओएस मशीन के संचालन के लिए इंटरनेट चाहिए। जिनके पास इंटरनेट है, उन्हें डेस्कटॉप पीओएस मशीन उपलब्ध कराया जाएगा। जिन दुकानों में इंटरनेट की सुविधा नहीं है, उन्हें सिम बेस्ड पोर्टेबल मशीन दी जाएगी। इसे स्मार्ट फोन के इंटरनेट से कनेक्ट कर ऑपरेट किया जा सकेगा। उनका कहना है कि दुकानदार अपनी सुविधा के अनुसार मशीन की डिमांड कर सकता है। उनका कहना है कि मार्केट में मशीन की कीमत 15 हजार रुपए से अधिक है।

देना पड़ेगा सेवा शुल्क

बैंक मैनेजर अनिल लांजेवार ने बताया कि बैंक व्यापारियों से मशीन लेने वालों से न्यूनतम सेवा शुल्क (एमडीआर) लेगा। डेस्कटॉप पीओएस मशीन लगाने के लिए 200 रुपए इंस्टालेशन चार्ज लिया जाएगा। यह शुल्क एक बार लिया जाएगा। 220 रुपए सर्विस चार्ज को हर माह देना पड़ेगा। पोर्टेबल मशीन खरीदने वालों से 400 रुपए इंस्टालेशन शुल्क लिया जाएगा। प्रतिमाह 400 रुपए सर्विस चार्ज भी देना पड़ेगा। उनका कहना है कि पोटेबल मशीन वायरलेस है। इसलिए शुल्क अधिक है।

फाइव टाइम की छूट

एसबीआई ने अपने ग्राहकों के लिए एटीएम या के्रडिट कार्ड से पांच बार पेमेंट का कन्वेनेंस शुल्क नहीं लेगा। ग्राहक पांच बार मुफ्त में लेन-देन कर सकता है। छठवीं बार में खरीदी के अनुसार एक रुपए से 7.50 रुपए स्वेपिंग शुल्क लिया जाएगा। आयुक्त नरेंद्र दुग्गा ने बताया कि शासन ने कैशलेस मार्केट सिस्टम के लिए पीओएस मशीन को अनिवार्य करने का आदेश जारी किया है। निगम व्यापारियों को पीओएस मशीन दिलाने में मदद करेगा। साथ ही जिनके पास गुमास्ता लाइसेंस नहीं है, वे ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। दो दिन में

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???