Patrika Hindi News

नोटबंदी का असर:सैलेरी के पहले दिन बैंकों में लगी कतार 

Updated: IST  Notbandi effect: The first day of salary queue in
एसबीआई सेक्टर-1 व 6 में माह के पहले दिन खाते में वेतन पहुंचने के बाद रुपए निकालने वालों की कतार देखने को मिली।

भिलाई. एसबीआई सेक्टर-1 व 6 में माह के पहले दिन खाते में वेतन पहुंचने के बाद रुपए निकालने वालों की कतार देखने को मिली। सेक्टर-6 बैंक के अधिकारी ने बताया कि दो हजार व एक सौ रुपए के नोट हैं, लेकिन पांच सौ रुपए के नोट नहीं है। खातेधारकों को दो हजार व एक सौ के नोट को मिक्स करके दिया जा रहा है। एसबीआई बैंक सेक्टर-1 के शाखा प्रबंधक ने बताया कि बैंक में कैश पर्याप्त है। खातेधारकों को किसी तरह की दिक्कत नहीं हो रही है।

500 के नोट मिले नहीं

सिविक सेंटर में बैंक ऑफ इंडिया की ब्रांच के एटीएम बंद रहे। बताया लिंक फेल है। यहीं एसबीआई का एक एटीएम बंद था और दूसरे में सिर्फ दो हजार रुपए निकल रहे थे। सेक्टर एक की एसबीआई शाखा के एटीएम में दोपहर तीन बजे एक एटीएम में 100 के नोट खत्म हो गए। सिर्फ 2000 का नोट निकल रहा था।शहर के अधिकांश एटीएम में 500 के नोट नहीं निकले। 100 के नोट भी दोपहर बाद खत्म हो गए।

निकासी की अधिकतम सीमा 24000 रुपए तय

खाते से हफ्ते में निकलेंगे सिर्फ 24000 रुपए, चाहे विड्राल फार्म भरें या एटीएम से निकालें खाते से निकासी की अधिकतम सीमा 24000 रुपए तय की गई है। एक हफ्ते में इससे अधिक रकम नहीं निकाली जा सकती है। इसमें भी एटीएम से रोज 2000 रुपए निकालते हैं तो विड्राल फार्म भरकर बैंक से सिर्फ 10 हजार रुपए निकाले जा सकेंगे। एसबीआर्ई सेक्टर एक शाखा के अनुसार लोग जानकारी के अभाव में गफलत में पड़ जाते हैं। निकासी की कुल सीमा तय है। चाहे एटीएम से निकालें या विड्राल फार्म से।

एटीएम में नोट होने का दावा

देना बैंक, सेक्टर-10 के शाखा प्रबंधक डीजी भस्मे ने बताया कि पर्याप्त कैश बैंक में है। दो हजार के अलावा 500 व 100 के नोट भी बैंक व एटीएम में मौजूद हैं। अब तक कैश को लेकर किसी तरह की दिक्कत नहीं।

टोकन देकर किए गेट बंद, कई लोग लौटे
स्टेट बैंक शाखा स्टेशन रोड में गुरूवार को भीड़ तो सामान्य दिनों की ही तरह रही, लेकिन सैलरी एकाउंट वालों की भीड़ बढऩे की संभावना को देखते हुए टोकन पर सख्ती की गई थी। पहली पाली में गिनती के लोगों को टोकन देने के बाद बैंक का दरवाजा बंद कर दिया गया। यह दरवाजा लंच के बाद फिर खुला। इस दौरान भी कुछ लोगों को टोकन देने के बाद दोबारा गेट बंद कर दिया गया। इससे बड़ी संख्या में लोगों को लौटना पड़ा।

लेने वाले कम जमा करने ज्यादा पहुंचे
स्टेट बैंक शाखा नया बस स्टैंड में भी गुरूवार को सामान्य स्थिति रही। सैलरी जारी होने की पहली तिथि होने के कारण भीड़ बढऩे की संभावना जताई जा रही थी, लेकिन बैंक में सैलरी अथवा नोट निकालने वाले कम पुराने नोट एकाउंट में जमा कराने वाले ज्यादा पहुंचे। दोपहर दो बजे के बाद यह जमा कराने वालों की भी भीड़ छंट गई। इसके बाद गिनती के ही लोग रुपए निकालने अथवा जमा कराने पहुंचे।

पेट्रोल पंपों में 500 के पुराने नोट बंद

500 रुपए का पुराना नोट अब शुक्रवार को रात 12 बजे बाद पेट्रोल पंप में नहीं लिया जाएगा। वहीं नगर निगम में जलकर शुल्क जमा करने वाले पांच सौ रुपए का पुराना नोट जमा ले सकेंगे। इसी तरह से बैंकों में भी पांच सौ रुपए का नोट जमा किया जा सकेगा।

लाल मैदान में शिविर लगाकर बांटेंगे स्वैप मशीन के लिए फार्म
नगर पालिक निगम प्रशासन और बैंक के प्रतिनिधि मंडल ने शुक्रवार को लाल मैदान पावर में शिविर लगाकर कार्ड स्वेप मशीन के लिए फार्म देंगे। व्यापारियों को मशीन को ऑपरेट करने की प्रक्रिया भी बताई जाएगी। नगर निगम आयुक्त नरेन्द्र कुमार दुग्गा ने गुरुवार को जोन के अधिकारियों की बैठक ली और जवाहर मार्केट में व्यापारियों को मशीन ऑपरेट करने के लिए चलाए गए अभियान की समीक्षा की। अधिकारियों ने दो दिन में 2 हजार व्यापारियां को फार्म बांटने की बात कही। 96 लोगों को गुमाश्ता लाइसेंस जारी करने की रिपोर्ट दी। आयुक्त ने पांच हजार व्यापारियों को फार्म बांटने का लक्ष्य दिया है।

रेलवे ने किया 10 हजार का अग्रिम भुगतान
बीएमवाय चरोदा, भिलाई-तीन व रायपुर में रेलवे कर्मचारियों को 26 नवंबर से ही 10 हजार रुपए नकद (दो हजार रुपए के नोट) का भुगतान किया गया। रेलवे के क्लर्क ने भिलाई-3 व चरोदा के एटीएफआर में राशि देने के बाद जो कर्मचारी कैश नहीं ले पाए थे, उनको रायपुर में भुगतान किया। रेलवे कर्मियों को दिक्कत न हो, इसको ध्यान में रखते हुए यह व्यवस्था की गई।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???