Patrika Hindi News

एक फरवरी को पेश हो सकता है केंद्रीय बजट

Updated: IST Arun Jaitley
बजट की तारीख के संबंध में फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में होगा

नई दिल्ली। आमतौर पर केंद्रीय बजट हर साल फरवरी के आखिर में पेश किया जाता है। हालांकि, अगले साल बजट को नई तारीख में पेश किया जा सकता है। केंद्र सरकार बजट पेश करनेे की तारीख एक फरवरी कर सकती है। अगले साल पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। उत्तर प्रदेश और पंजाब में अगले साल फरवरी-मार्च में चुनाव होंगे जिसके चलते चुनाव आयोग आचार संहिता लगा दे।

बजट एक फरवरी को पेश किया जा सके इसलिए सरकार ने चुनाव आयोग से इजाजत मांगी थी। आयोग ने सरकार को एक फरवरी को बजट पेश करने की मंजूरी दे दी है। वित्त मंत्रालय ने बजट पेश किए जाने की तारीख बदलने के लिए चुनाव आयोग में अर्जी दी थी। आयोग ने मंत्रालय के उस विचार से सहमति जताई कि यह सालाना वित्तीय लेखा जोखा है और सरकार की सहुलियत के हिसाब से इसे कभी भी पेश किया जा सकता है।

बजट की तारीख के संबंध में फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में होगा। कैबिनेट की बैठक बुधवार या गुरुवार को हो सकती है। मंत्रिमंडल ने 21 सितंबर को सैद्धांतिक रूप से केंद्रीय बजट फरवरी महीने के अंतिम दिन पेश किए जाने के उपनिवेशिक काल से चली आ रही परंपरा को समाप्त करने और इसे एक महीने पहले पेश करने का फैसला किया। इसका मकसद सालाना व्यय योजना और कर प्रस्तावों के लिए विधायी प्रक्रिया एक अप्रेल से शुरू नए वित्तीय वर्ष से पहले समाप्त करना था।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पिछले हफ्ते कहा था, हम पूरी बजट प्रक्रिया और वित्त विधेयक पहले पारित कराकर इसे 1 अप्रेल से लागू करना चाहते हैं, न कि जून से।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???