Patrika Hindi News

ट्रंप के हाथ में स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी के कटे सिर वाले कार्टून पर बवाल

Updated: IST Trump cartoon
जर्मनी की प्रमुख पत्रिका डेअर श्पीगल के कवर परट्रंप के हाथ में स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी के कटे सिर वाले कार्टूनको लेकर पत्रिका की निंदा हो रही है।कार्टूनिस्ट एडेल रॉड्रिग्स ने अपने काम का बचाव किया है। उन्होंने अपनी सफाई में कहा है कि ये कार्टून लोकतंत्र का सिर काटने का प्रतीक है।

बर्लिन. अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ड्रंप निवार्चित होने के बाद से अपने फैसले को लेकर विवदों में हैं। लेकिन, अब एक जर्मन पत्रिका ने अपने कवर पेज पर ट्रंप के हाथ में स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी के कटे सिर वाले कार्टून छाप कर नए विवाद को जन्म दे दिया है। जर्मनी की प्रमुख पत्रिका डेअर श्पीगल के कवर पर छपे अमरीकी राष्ट्रपति ट्रंप की कार्टून को लेकर पत्रिका की निंदा हो रही है। इस कार्टून में अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप को स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी का कटा हुआ सिर हाथ में पकड़े हुए दिखाया गया है। हालांकि, कार्टूनिस्ट एडेल रॉड्रिग्स ने अपने काम का बचाव किया है। उन्होंने अपनी सफाई में कहा है कि ये कार्टून लोकतंत्र का सिर काटने का प्रतीक है। रॉड्रिग्स ने एक अमरीकी समाचार-पत्र से कहा कि वो चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट और डोनल्ड ट्रंप की तुलना इस तरह करना चाहते हैं, जैसे ये कट्टरपंथ के दो सिरे हों।

संपादकीय में भी आलोचना
डेअर श्पीगल के संपादक क्लॉस ब्रिंकबॉमर ने संपादकीय लेख में भी ट्रंप के नीतियों की आलोचना की है। उन्होंने अपने संपादकीय में लिखा है कि ट्रंप अमरीका के शीर्ष पद पर रहते हुए भी तख्तापलट की कोशिश कर रहे हैं और एक संकुचित लोकतंत्र स्थापित करना चाहते हैं।

जर्मन अखबारों ने की कार्टून की आलोचना
डेअर श्पीगल पत्रिका में ट्रंप पर कार्टूनिस्ट एडेल रॉड्रिग्स के काम की जर्मनी के कई अखबारों में इसकी आलोचना हो रही है। वहीं, यूरोपीय संसद में जर्मनी के उपाध्यक्ष ने इसे घटिया कृत्य बताया है।

पहले भी छप चुकी है ट्रंप की ऐसी कार्टून
इससे पहले अमरीका में ही छप चुकी है ट्रंप की ऐसी कार्टून। दिसंबर 2015 में न्यूयॉर्क डेली न्यूज के कवर पेज पर छपे एक कार्टून में भी ट्रंप को स्टेच्यू ऑफ लिबर्टी के कटे हुए सिर के साथ दिखाया गया था।

अमरीका-जर्मनी के रिश्तों में कड़वाहट
डोनल्ड ट्रंप के अमरीका के राष्ट्रपति बनने के बाद से अमरीका और जर्मनी के रिश्तों में कुछ कड़वाहट देखी गई है। क्योंकि, ट्रंप जर्मनी की चांसलर अगेला मर्केल की नीतियों की आलोचना कर चुके हैं। ट्रंप ने कहा था कि जर्मनी में बड़ी संख्या में प्रवासियों का स्वागत करने की नीति विनाशकारी गलती है।

ट्रंप की छवि खराब करने का आरोप
इस कार्टून के प्रकाशन के बाद अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कार्यलय व्हाइट हाउस ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। व्हाइट हाउस ने एक बयान जारी कर उदारवादी मीडिया समूहों पर डोनल्ड ट्रंप की छवि खराब करने के लिए गलत और गैरजिम्मेदार पत्रकारिता करने का आरोप लगाया है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???