Patrika Hindi News

> > > CIA chief warns Trump: Scrapping Iran deal ’height of folly’

CIA चीफ की ट्रंप को वॉर्निंग, कहा- ईरान के साथ 'डील' रद्द करना मूर्खता की हद 

Updated: IST John Brennan
सीआईए चीफ ने ब्रिटीश मीडिया को दिया पहली बार इंटरव्यू।रूस के साथ नजदीकी को लेकर चेताया।

लंदन। अमरीका के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (सीआईए) के चीफ जॉन ब्रेन्नन ने चेतावनी दी है। बीबीसी को दिए इंटरव्यू में जॉन ब्रेन्नन ने चेतावनी देते हुए कहा कि ईरान के साथ 'न्यूक्लियर डील' खत्म करना विनाशकारी साबित होगा। उन्होंने इस कदम को मूर्खतापूर्ण की हद करार दिया।

किसी सीआईए चीफ का ब्रिटीश मीडिया को पहला इंटरव्यू, रूस के साथ नजदीकी को लेकर चेताया
- जॉन ब्रेन्नने ने कहा,'ट्रंप को रूस के वादों से होशियार रहना चाहिए। उन्होंने ने रूस को सीरिया में दखल देने के लिए जिम्मेदार ठहराया है।
- बता दें कि किसी सीआईए चीफ का ब्रिटीश मीडिया को दिया गया ये पहला इंटरव्यू है।
- अपने चुनावी कैंपने में ट्रंप ने ईरान के साथ परमाणु समझौता रद्द करने की बात कही थी। उन्होंने रूस के साथ रिश्ते सुधारने की दिशा में कदम बढ़ाने के भी संकेत दिए थे।
- ट्रंप के इसी कदम से सीआईए चीफ चिंतित हैं। इस बारे में उन्होंने पहली बार राष्ट्रपति को साफ-साफ चेताया है।

Image result for Donald trump

जनवरी में रियाटर होंगे जॉन ब्रेन्नने
-जॉन ब्रेन्नने का सीआईए निदेशक तौर पर कार्यकाल समाप्त होने वाला है। वे चार साल बाद जनवरी में रिटायर हो रहे हैं।

Image result for Donald trump with cia chief

विवेक व अनुशासन के साथ काम करें नया प्रशासन
- जॉन ब्रेन्नने ने नए प्रशासन को विवेक व अनुशासन के साथ काम करने की सलाह दी। सीआईए सीरिया के हालात के लिए रूस को जिम्मेदार ठहराता आया है।
- सीरिया में रूस के हवाई हमलों से नागरिकों के मरने को लेकर अमरीका व संयुक्त राष्ट्र रूस को कई बार युद्ध विराम करने की बात कह चुका है।
- ओबामा प्रशासन ने असद सरकार के खिलाफ लड़ रहे विद्रोहियों को समर्थन देने की नीति अपनाई हुई है।
- सीआईए चाहता है कि नया प्रशासन भी इसी नीति पर आगे बढ़े।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???