Patrika Hindi News

हिंसक खतरों से निपटने के लिए पुतिन की अपील, कहा- रूसी सेना हमेशा तैयार

Updated: IST  Putin appeals to combat violent threats
रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को विजय दिवस की 72वीं वर्षगांठ के मौके पर अपने संबोधन में हिंसक खतरों से मुकाबले के लिए अंतर्राष्ट्रीय एकता तथा सहयोग का आह्वान किया। साथ ही कहा कि खतरों से निपटने के लिए रूसी सेना हमेशा तैयार है।

मॉस्को: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मंगलवार को विजय दिवस की 72वीं वर्षगांठ के मौके पर कहा कि हिंसक खतरों से निपटने के लिए अंतर्राष्ट्रीय एकता और सहयोग के लिए आगे आने की जरूरत है। मॉस्को के रेड स्क्वेयर पर होने वाले भव्य समारोह से पहले सैनिकों को संबोधित करते हुए पुतिन ने कहा कि हिंसा से निपटने के लिए रूस बाकी दुनिया के साथ सहयोग करने के लिए तैयार है।

नाजी ताकतों पर जीत के लिए रूस में विजय दिवस
नाजी ताकतों पर सोवियत संघ की जीत को रूस में विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस युद्ध को रूस में ग्रेट पैट्रियॉटिक वार के नाम से जाना जाता है। परेड के लिए तैयार 10,000 से अधिक सैनिकों की मौजूदगी में पुतिन ने युद्ध के दिग्गजों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

सैनिकों को दी गई श्रद्धांजलि
पुतिन ने युद्ध के दौरान सोवियत संघ के सैनिकों के बलिदान को याद किया। युद्ध के दौरान पूरे सोवियत संघ में 2.6 करोड़ लोग मारे गए थे। उन्होंने कहा कि संघर्ष से हमें सतर्क रहने की सीख मिलती है।विजय दिवस हर साल मनाया जाता है और यह रूस का बेहद अहम दिवस है। इस दिन देश अपनी सैन्य शक्ति का प्रदर्शन करता है।

रूसी सेना खतरे से निपटने के लिए तैयार
पुतिन ने कहा कि रूस की सेना किसी भी खतरे से उसी तरह निपटने के लिए आज भी तैयार है जैसे इसने द्वितीय विश्वयुद्ध में जर्मन नाजी फौजों को धूल चटाई थी। उन्होंने कहा कि दुनिया की कोई भी ताकत कभी भी रूसी लोगों को दबा नहीं सकती।

खराब मौसम की थी आशंका
समारोह शुरू होने से पहले ही रक्षा मंत्री ने घोषणा की थी कि खराब मौसम के कारण इस साल एयर फोर्स को एग्जिबिशन रद्द किया जाता है। सेना के विमान मॉस्को के ऊपर आसमान में छाए बादलों को छितराने के लिए पूरी रात रसायनों का छिड़काव करते रहे।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???