Patrika Hindi News

प्रदर्शनकारियों के आगे झुकी रोमानिया की वामपंथी सरकार

Updated: IST mass protests in Romania
रोमानिया में भारी विरोध प्रदर्शन के बाद प्रधानमंत्री सोरिन ग्रिनडेयनू ने इस्तीफे की घोषणा कर दी है।

बुखारेस्ट। रोमानिया में भारी विरोध प्रदर्शन के बाद प्रधानमंत्री सोरिन ग्रिनडेयनू ने इस्तीफे की घोषणा कर दी है। प्रधानमंत्री ने भ्रष्टाचार को लेकर बनाए गए नए कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन के बाद पद छोड़ने की घोषणा की है। पिछले पांच दिनों से रोमानिया में सरकार के खिलाफ उग्र विरोध प्रदर्शन हो रहा था। सरकार विरोध प्रदर्शन के आगे झुकते हुए नए कानून को निरस्त करने जा रही है।

क्यों कर रहे थे लोग वामपंथी सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन
प्रदर्शनकारियों का कहना था कि सरकार के नए कानून से भ्रष्टाचार की लड़ाई कमजोर पड़ेगी। नेताओं और बड़े अधिकारियों को इसका फायदा मिलेगी। सरकार के आदेश के मुताबिक , जिन पर 44 हजार लेवू (रोमानियाई मुद्रा) से ज्यादा का भ्रष्टाचार का आरोप होगा उन्हीं मामलों को गंभीर माना जाएगा।

People throw snow at police protecting government headquarters on January 31 in Bucharest. Protesters also took to the streets in other cities across Romania.

आज कैबिनेट बैठक में निरस्त किया जाएगा कानून
गार्जियन की रिपोर्ट के मुताबिक, रविवार को कैबिनेट की बैठक के बाद भ्रष्टाचार के कानून को निरस्त किया जाएगा। प्रधानमंत्री सोरिन ने शनिवार को इस बात की घोषणा की है। ग्रिनडेयनू ने कल कहा था, ‘मैं रोमानिया का बंटवारा नहीं चाहता हूं।’ इसके बाद प्रदर्शन कुछ थमा है और प्रदर्शनकारियों के चेहरे पर खुशी की लहर दौड़ी है।

3 लाख से ज्यादा लोग सरकार के खिलाफ उतरे थे सड़कों पर
बता दें कि शनिवार को 140,000 लोगों ने प्रधानमंत्री कार्यालय के बाहर इस कानून को लेकर प्रदर्शन किया था। प्रदर्शनकारी काफी दिनों से सरकार पर दबाव बना रहे थे। अनुमान के मुताबिक, पांच दिन में 330,000 लोग सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे। प्रधानमंत्री सोरिन ग्रिनडेयनू आज आपातकालीन बैठक कर कानून को निरस्त करेंगे।

वामपंथी सरकार नहीं है भरोसे लायक
प्रदर्शनकारियों का कहना है कि वामपंथी सरकार भरोसे लायक नहीं है। हालांकि, हमें खुशी है कि वामपंथी सरकार एक ही महीने तक कार्य कर सकी है।

Riot police and protesters clash February 1 in Bucharest.

1989 में तानाशाह निकोलाय की पद छोड़ने के बाद कर दी गई थी हत्या
1989 में रोमानिया के तानाशाह निकोलाय चाउसेस्कु को भारी विरोध प्रदर्शन के बाद पद छोड़ना पड़ा था, जिसके बाद उनकी हत्या कर दी गयी थी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???