Patrika Hindi News

> > > > Ramayana Mela Will start 3 December On Ramkatha Park Ayodhya

UP Election 2017

Photo Icon अयोध्या में रामायण मेले के मंच पर दिखेगी अवध की साझी विरासत की तस्वीर

Updated: IST Ramayan Mela Ayodhya
अवध की सांझी विरासत को समेटे अयोध्या का प्रसिद्ध रामायण मेला तीन दिसंबर से शुरू हो रहा है यह पूरा आयोजन मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन नगरी अयोध्या में सरयू तट के किनारे बने श्री राम कथा पार्क में आयोजित होगा

फैजाबाद | अवध की सांझी विरासत को समेटे अयोध्या का प्रसिद्ध रामायण मेला तीन दिसंबर से शुरू हो रहा है यह पूरा आयोजन मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्री राम की पावन नगरी अयोध्या में सरयू तट के किनारे बने श्री राम कथा पार्क में आयोजित होगा | 35 वें रामायण मेले का शुभारम्भ तीन दिसम्बर को उत्तर प्रदेश विधानसभाध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय करेंगे। छह दिसम्बर तक चलने वाले रामायण मेला के समापन समारोह में राज्यपाल रामनाईक के आगमन की संभावना है। इस पूरे आयोजन में उधर मेला के अवसर पर उत्तर प्रदेश संस्कृति विभाग की ओर से चार अलग-अलग दिवसों के लिए विविध सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया है।

Ramayan Mela File Photo

रामलीला के मंचन के साथ लोक कलाओं का होगा प्रदर्शन

तीन दिवसीय रामायण मेले के पहले दो दिन श्रीधनुषधारी अवध आदर्श रामलीला मंडली अयोध्या एवं अंतिम दो दिन सत्यनारायण पाण्डेय के निर्देशन में चलने वाली श्रीसाकेत आदर्श रामलीला मंडल अयोध्या की ओर से रामलीला मंचन किया जाएगा।सचिव एवं निदेशक डॉ. हरिओम की संस्तुति के अनुसार तीन दिसम्बर को इलाहाबाद की पूर्णिमा की ओर से ढिंढिया लोकनृत्य, फैजाबाद के शास्त्रीय गायक देवप्रसाद पाण्डेय की ओर से उपशास्त्रीय गायन, गोरखपुर के डॉ. शरद मणि त्रिपाठी के निर्देशन में श्रीरामकथा पर आधारित गीत/भजन एवं कल्चरल क्वेस्ट लखनऊ के द्वारा सुंदरकांड पर आधारित नृत्यनाटिका प्रस्तुत की जाएगी।

Ramayan Mela File Photo

तीन दिनों तक सांस्कृतिक सुरों से सजेगी रामायण मेले की शाम

चार दिसम्बर को सागर की रचना तिवारी की ओर से बधाई नौरता लोकनृत्य, लखनऊ के किशोरचुतर्वेदी का भजन, लखनऊ की डॉ. मालविका की ओर से अवधी लोक गायन की प्रस्तुति एवं गोरखपुर के मनोज मिहिर की ओर से भोजपुरी गायन प्रस्तुत होगा।पांच दिसम्बर को सागर के ही रामसहाय पाण्डेय का राई लोकनृत्य, वंदना मिश्र का रघुवीरा अवधी गायन, मानवेन्द्र त्रिपाठी की मेघदूत की पूर्वाचल यात्र एवं छह दिसम्बर को रोहतक के सलीम का घूमर लोकनृत्य, डॉ. सत्यप्रकाश मिश्र का भजन, विवेक पाण्डेय का लोकगायन एवं राकेश श्रीवास्तव की ओर से जादू का प्रदर्शन तथा गाजीपुर के पारसनाथ यादव का बिरहा गायन होगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???