Patrika Hindi News

हरियाणा में जल्द होंगे अफसरों के तबादले

Updated: IST   government teacher in madhya pradesh, mp assembl
मंथन बैठकों के बाद सक्रिय होगी सरकार, सीएमओ के साथ-साथ जिलों में भी होगा फेरबदल

चंडीगढ़। हरियाणा सरकार विधायकों और पार्टी नेताओं की शिकायतों को गंभीरता से लते हुए बहुत जल्द कार्रवाई करने की तैयारी में है। बहुत जल्द मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के कार्यालय के साथ-साथ हरियाणा के तमाम जिलों व उपमंडलों में अधिकारियों के नए चेहरे देखने को मिलेंगे।

सत्ता व संगठन में पिछले कई महीनों से चल रही नाराजगी को दूर करने के लिए पार्टी के सह राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) वी.सतीश की अध्यक्षता में दो दिवसीय बैठकों का आयोजन किया गया है। सूत्रों की मानें तो दो दिन तक चली इन बैठकों में सत्ता व संगठन के नेताओं ने अफसरशाही के माध्यम से सरकार पर निशाना साधने का काम किया है। जिन विधायकों व नेताओं की सरकार व मंत्रियों से नाराजगी थी उन्होंने भी अफसरशाही को इसका मुख्य कारण बताया है।

वी.सतीश इन बैठकों की रिपोर्ट जल्द ही अमित शाह को सौंपेंगे। इसके बाद ही इस मामले में अंतिम फैसला होगा। इसके बावजूद वी.सतीश द्वारा सरकार को अपनी कार्यप्रणाली में बदलाव के निर्देश जारी किए गए हैं। सत्ता व संगठन से जुड़े लोग इस बात को लेकर एकमत दिखाई दिए हैं कि उनकी फाइलों को बिना किसी कारण के कई-कई दिनों व महीनों तक अटकाया जा रहा है। अफसरों द्वारा बगैर किसी आपत्ति वाली फाइलों को भी रोक लिया जाता है। विधायकों ने तो उनके हलकों में तैनात एसडीएम स्तर के अधिकारियों द्वारा भी सुनवाई न किए जाने के आरोप लगाए।

दो दिन की बैठकों का यही निषकर्ष सामने आ रहा है कि सरकार द्वारा अब अफसरों पर नकेल कसी जाएगी, क्योंकि अफसरों के कारण ही सरकार की छवि खराब हो रही है। अफसरों द्वारा विधायकों और नेताओं की अनदेखी किए जाने का खामियाजा मंत्रियों व मुख्यमंत्री को भुगतना पड़ रहा है।

सूत्रों की मानें तो सरकार द्वारा बहुत जल्द जिलों में तैनात एस.पी. व डी.सी. स्तर के अधिकारियों के तबादले किए जाने के साथ-साथ एसडीएम स्तर के अधिकारियों में भी फेरबदल किया जाएगा। यही नहीं नए तैनात होने वाले अधिकारियों को विधायकों व पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को उचित मान-सम्मान देने व उनके जायज काम करने के लिए भी चंडीगढ़ से इशारा किया जाएगा। आने वाले दिनों में सरकार तबादलों का दौर शुरू कर सकती है।विधायकों व नेताओं की नाराजगी सीएमओ में तैनात अधिकारियों व राजनीतिक नियुक्तियों को लेकर रही है। अब यहां भी बदलाव दिखाई देगा। मुख्यमंत्री के ओएसडी को बदलने के साथ इसकी शुरूआत हो चुकी है।

सूत्रों की मानें तो सरकार के मंत्री तथा विधायक दो वरिष्ठ आई.ए.एस. अधिकारियों की सीएमओं में तैनाती की मांग कर रहे हैं। विधायओं और मंत्रियों के दबाव के चलते आने वाले दिनों में दो वरिष्ठ अधिकारियों की सीएमओ में तैनाती के साथ-साथ राजनीतिक नियुक्तियों में भी बदलाव की प्रबल संभावना है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???