Patrika Hindi News

आयकर रिटर्न फाइल करने के लिए 31 जुलाई से पहले पैन-आधार को करा लें लिंक

Updated: IST Aadhaar
एक अप्रेल से आयकर रिटर्न फाइन करने की शुरुआत हो गई है। अगर आप भी रिटर्न फाइल करते हैं तो 31 जुलाई से पहले आप अपने पैन कार्ड और आधार को लिंक कर लें। सरकार ने साफ कर दिया है कि ऐसा नहीं करने वाले को इस बार आयकर रिटर्न फाइल करने की अनुमति नहीं होगी।

नई दिल्ली. एक अप्रेल से आयकर रिटर्न फाइन करने की शुरुआत हो गई है। अगर आप भी रिटर्न फाइल करते हैं तो 31 जुलाई से पहले आप अपने पैन कार्ड और आधार को लिंक कर लें। सरकार ने साफ कर दिया है कि ऐसा नहीं करने वाले को इस बार आयकर रिटर्न फाइल करने की अनुमति नहीं होगी।

आपको बता दें कि इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए पैन का आधार से लिंक होना अनिवार्य हो चुका है। अगर अभी तक आपने अपने पेन कार्ड और आधार को लिंक नहीं किया है तो हम आपको घर बैठे लिंक करने का आसान तरीका बता रहे हैं। इस तरीके से आप आसानी से दोनों दस्तावेजों को लिंक कर सकेंगे और अपना इनकम टैक्स रिटर्न भी फाइल कर लेंगे।

लिंक करने की प्रक्रिया
आयकर विभाग की वेबसाइट पर लॉग-इन करना होगा। अगर आपने अपनी आइडी पहले कभी नहीं बनाई है तो पेज पर रजिस्टर का ऑप्शन आता है। वेबसाइट पर अपना नाम, आईडी पासवर्ड और जन्म तिथि भरकर जब आप ओके करेंगे तो अलग से एक विंडो खुल जाएगी। इस विंडो में आधार लिंक करने का ऑप्शन है। वह आपकी डिटेल्स जैसे नाम, लिंग, जन्मतिथि आदि मांगता है।

सारी जानकारियां भरने के बाद आप उसे एक बार अपने आधार कार्ड से एक बार और मिला लें। क्योंकि अगर एक भी जानकारी गलत होगी तो आपका आधार पैन कार्ड से लिंक नहीं हो पाएगा। सारी जानकारियां आधार से मैच कर लेने के बाद अपना आधार नंबर डालें और लिंक पर क्लिक करें।

नियम को और सरल बनाया गया

नाम की वर्तनी अलग-अलग होने से पैन को आधार से जोडऩे में कई समस्याओं का सामना कर रहे लोगों को सरकार ने एक औैर राहत दी है। अब सिर्फ पैन कार्ड की एक स्कैन प्रति देनी होगी। इसके अलावा इनकम टैक्स विभाग इस संबंध में ऑनलाइन विकल्प देने की भी योजना बना रहा है। वह अपने ई-फाइलिंग पोर्टल पर करदाताओं को आधार जोडऩे का विकल्प देगा। इस विकल्प में उन्हें बिना अपना नाम बदले एक एकबारगी कूटसंदेश (वन टाइम पासवर्ड) का विकल्प चुनना होगा। इस विकल्प का चुनाव करने के लिए उन्हें अपने दोनों दस्तावेजों में उल्लेखित जन्मतिथि उपलब्ध करानी होगी और उनके मिलान पर वह ऑनलाइन आधार से पैन को जोड़ सकेंगे। उल्लेखनीय है कि अब आधार के साथ पैन को जोडऩा अनिवार्य कर दिया गया है। विभाग इस बारे में मीडिया के माध्यम से लोगों को इस सप्ताह से जागरूक बनाने का प्रयास भी कर रहा है।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???