Photo Icon एपल आईफोन 7 के ये नए फीचर्स चाइनीज स्मार्टफोन्स में पहले से ही है मौजूद!

Updated: IST apple iPhone 7 vs chinese phone
एपल ने आईफोन 7 को सबसे दमदार फोन के तौर पर पेश किया है, लेकिन ये फीचर्स पहले ही आ चुके हैं

नई दिल्ली। टेक कंपनी एपल ने अपनी आईफोन सीरीज में नया आईफोन 7 और आईफोन 7 प्लस लॉन्च किए हैं। कंपनी ने इन आईफोन्स में सबसे अत्याधुनिक और नए फीचर्स देने की बात कही है चाहे वो प्रोसेसर हो या कैमरा या हेडफोन जैक। लेकिन हकीकत ये है एपल के इन दोनों ही आईफोन्स में दिए फीचर्स पहले से ही मार्केट में उपलब्ध सस्ते चाइनीज स्मार्टफोन्स में मौजूद है। माना जा रहा था कि अपने हैंडसेट्स की गिरती सेल्स के बीच एपल कोई नई टेक्नोलॉजी लाएगी, लेकि वैसा कुछ भी नहीं हुआ।

रिसर्च पर किया भारी खर्चा
फिलहाल करीब 85 फीसदी स्मार्टफोन मार्केट पर सैमसंग और चीन की हुवेई कंपनी का कब्जा है। इस वजह से एपल ने जल्दबाजी में यह आईफोन उतारा है। सैमसंग ने सबसे एडवांस फोन ग्लैक्सी नोट 7 को बैटरी में खराबी के चलते रिकॉल किया है जिस मौके का फायदा एपल उठाना चाहता था, लेकिन ऐसा नहीं होता दिख रहा। इसके साथ ही एपल कंपनी आईफोन 7 से ऑडियो जैक हटाने की ऐसी पब्लिसिटी कर रही है जैसे यह कोई जोरदार टेक्नोलॉजी हो। जहां आज दुनिया पोकेमॉन गो की दीवानी है वहीं एपल 15 साल पुराना सुपर मारियो रन गेम खेलने को कह रही है। एपल ने 2011 में रिसर्च और डेवलपमेंट पर 2.4 अरब डॉलर (16,000 करोड़ रूपए) खर्च किए थे, जिसे पिछले साल बढ़ाकर 54000 करोड़ रूपए किया गया।

आईफोन 7 के ये फीचर्स पहले ही आ चुके हैं-
1. ड्यूल लैंस कैमरा
एपल ने पहली बार आईफोन 7 प्लस में ड्यूल लैंस कैमरा दिया आया। लेकिन आपको बता दें कि चीनी कंपनी हुवेई और होनर कई साल पहले ही इस तकनीक वाले स्मार्टफोन ला चुकी है।

2. फास्ट चार्जिंग
यह टेक्नोलॉजी भी एन्ड्रायड स्मार्टफोन्स में पहले से ही मौजूद हैं। मोटो जी4 और जी4 प्लस में टर्बो चार्जिंग तकनीक आ चुकी है। इनके अलावा भी मार्केट में कई एंडॉयड फोन्स में यह फीचर हैं।

3. डिस्पले और डिजाइन
आईफोन 7 का डिस्पले रेजोल्यूशन 1920 गुणा1080 पिक्सल है। वहीं, सैमसंग, वन प्लस के प्रीमियम स्मार्टफोन्स में इससे ज्यादा रिजोल्यूशन है।

4. वाटर और डस्ट प्रूफ
यह फीचर सोनी, सैमसंग, हुवेई पहले से ही अपने हैंडसेट्स में दे चुके हैं। आपको बता दें कि सैमसंग गैलेक्सी नोट 7 की वाटर प्रूफ कैपेसिटी भी ज्यादा है।

5. हैडफोन जैक
एपल ने हैडफोन ऑडियो जैक को हटाने को साहसिक कदम कहा है। इसे चार्जिंग जैक से कनेक्ट किया है। यानी यूजर्स आईफोन 7 और 7 प्लस को चार्ज करते समय हैडफोन का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। लेकिन हुवेई के पी-9 स्मार्टफोन में ड्यूल कैमरे के साथ हैडफोन जैक अलग से दिया जा चुका है।

6. माइक्रोएसडी कार्ड क्षमता
हालांकि एन्ड्रॉयड स्मार्टफोन्स में मिल रही बेहतर स्टोरेज कैपेसिटी को देखते हुए ही एपल ने इसको बढ़ाया है। लेकिन आजकल आ रहे है एंड्रॉयड स्मार्टफोन्स में 2 टेराबाइट तक का मेमोरी कार्ड लगाया जा सकता है।

7. स्टीरियो स्पीकर
स्टीरियो स्पीकर स्मार्टफोन में नई टेक्नोलॉजी नहीं है। एचटीसी, हु‌वेई के स्मार्टफोन्स में यह टेक्नोलॉजी पहले से ही दी जा चुकी है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???